Wednesday, 4 January 2023

निवेशकों को लुभाने कल मुंबई आएंगे योगी आदित्यनाथ, उद्योगपतियों और फिल्म क्षेत्र के लोगों से करेंगे मुलाकात

मुंबई: फरवरी के दूसरे सप्ताह में लखनऊ में होने जा रही ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट (जीआईएस) में देश के बड़े उद्योगपतियों के आमंत्रित करने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुधवार को मुंबई आ रहे हैं। दो दिन के दौरे में वह देश के चुनिंदा उद्योगपतियों एवं फिल्म क्षेत्र के लोगों से मुलाकात करेंगे।


10 से 12 फरवरी के बीच आयोजन

बता दें कि लखनऊ में ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट का आयोजन 10 से 12 फरवरी के बीच किया जा रहा है। इस बार उत्तर प्रदेश सरकार इन्वेस्टर्स समिट में देश के बड़े उद्योग घरानों के साथ-साथ विदेशी निवेशकों को भी आमंत्रित कर रही है। इसके लिए विभिन्न देशों में उत्तर प्रदेश सरकार के कई मंत्री जाकर मल्टीनेशनल कंपनियों को आमंत्रित कर रहे हैं। देश के नौ प्रमुख शहरों में पांच जनवरी से 27 जनवरी के बीच कई वरिष्ठ मंत्रियों और अधिकारियों को उद्योग जगत से संपर्क के लिए भेजा जा रहा है। इसी कड़ी में देश की आर्थिक राजधानी कही जानेवाली मुंबई में मुख्यमंत्री आदित्यनाथ खुद अपने दो वरिष्ठ मंत्रियों राजस्व मंत्री रवींद्र जायसवाल एवं उद्योग मंत्री नंदगोपाल नंदी सहित कई प्रमुख अधिकारियों के साथ रोड शो करने पहुंच रहे हैं।


मुख्यमंत्री शिंदे से करेंगे मुलाकात

उत्तर प्रदेश के राजस्व, निबंधन एवं स्टांप मंत्री रवींद्र जायसवाल ने दैनिक जागरण को बताया कि मुख्यमंत्री चार जनवरी को दोपहर बाद मुंबई पहुंचेंगे। इसके बाद वह महाराष्ट्र के राज्यपाल भगतसिंह कोश्यारी, मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे एवं उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से शिष्टाचार मुलाकात करेंगे। शाम को कुलाबा स्थित होटल ताजमहल में उनकी मुलाकात मुंबई में रह रहे उत्तर प्रदेश मूल के उद्यमियों से होगी। बुधवार को ही उनकी मुलाकात सिने जगत के कुछ प्रमुख लोगों से होगी। जिन्हें वह उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में बन रहे फिल्म सिटी की प्रगति से अवगत कराएंगे। इसकी घोषणा मुख्यमंत्री ने अपनी पिछली मुंबई यात्रा के दौरान की थी।


निवेशकों से करेंगे बातचीत

अपने दौरे के दूसरे दिन होटल ताज में ही मुख्यमंत्री बैंकिंग क्षेत्र एवं फिनटेक क्षेत्र के लोगों से मुलाकात करेंगे। इसके बाद वह मुंबई के रोड शो में भाग लेंगे। ताज होटल में ही आयोजित रोड शो में टाटा समूह, रिलायंस उद्योग समूह, महिंद्रा, गोदरेज, आदित्य बिड़ला समूह, पीरामल एंटरप्राइजेज, पार्ले एग्रो, जेएसडब्ल्यू ग्रुप और स्टार एवं डिजनी समूह के प्रतिनिधियों से बात करेंगे। इसके अलावा उनकी हिंदूजा ग्रुप, हिंदुस्तान यूनी लिवर, अडानी ग्रुप, हीरानंदानी ग्रुप, टोरेंट पावर, वोकहार्ड, इंडियन मर्चेंट्स चैंबर, ध्रुवा एडवाइजर्स, केकेआर इंडिया, एवर स्टोन ग्रुप, हीरो साइकिल, आरपीजी एंटरप्राइज, एलएंडटी आदि बड़ी कंपनियों के प्रतिनिधियों से भी मिलने की योजना है।


अर्थव्यवस्था में यूपी का योगदान

रवींद्र जायसवाल के अनुसार, प्रधानमंत्री ने पांच खरब की अर्थव्यवस्था का लक्ष्य निर्धारित कर रखा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बड़ा प्रदेश होने के कारण इसमें एक खरब का योगदान उत्तर प्रदेश की तरफ से करना चाहते हैं। इसी लक्ष्य के साथ ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट (जीआईएस) का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें कुल 21 सेक्टर्स के उद्योग समूहों के शामिल होने की संभावना है। इनसे इस इन्वेस्टर्स समिट के दौरान 10 लाख करोड़ के निवेश की संभावना जताई जा रही है।


बता दें कि इससे पहले 2018 में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा किए गए इन्वेस्टर्स समिट से पहले भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मुंबई में रोड शो आयोजित किया था। फिर करीब दो साल पहले भी विशेषकर फिल्म जगत के लोगों से मिलने मुंबई आ चुके हैं।


Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.