Saturday, 7 January 2023

Mumbai: मुंबई में बंटी-बबली स्टाइल में नौकरी के नाम पर लगाया करोड़ों का चूना, हजारों लोगों से लिए पैसे


Mumbai: मुंबई में नौकरी के नाम पर लोगों से ठगी करने का मामला सामने आया है. नेशनल सिक्योरिटी कंपनी में जॉब देने के नाम पर डेढ़ हजार से ज्यादा लोगो के साथ ठगी की गई है. 


मुंबई के दिंडोशी पुलिस ने सिक्योरिटी सुपरवाइजर की पोस्ट पर नौकरी देने के नाम पर डेढ़ हजार से ज्यादा लोगो को लाखों का चूना लगाने वाले कंपनी के मैनेजर बंटी और बबली, एक पुरुष और एक महिला को गिरफ्तार किया है. देश में होने वाले अंतरराष्ट्रीय स्तर के आयोजन में निजी सिक्योरिटी देने के नाम पर यह लोगों से पैसे ठग रहे थे. 


पुलिस ने क्या कहा? 


जांच अधिकारी अतुल माली ने बताया कि भारत में होने वाले बड़े आयोजन में निजी सिक्योरिटी देने के नाम पर फर्जी कंपनी चलाने और डेढ़ हज़ार से अधिक लोगों से पैसे की ठगी के मामले में एक प्रेमी जोड़े बंटी और बबली को गिरफ़्तार किया है. मुंबई पुलिस की गिरफ़्त में आए दोनों आरोपियों में धोखेबाज महिला का नाम कविता लाड है जबकि दूसरा उसका प्रेमी अब्दुल हमीद शेख है, जो कि फ़िल्मी जोड़ी बंटी बबली की तर्ज पर काम करते थे. 


ठगी कैसे करते थे? 


जांच अधिकारी अतुल माली ने बताया कि आरोपी मालाड रेलवे स्टेशन के पास नेशनल सिक्योरिटी के नाम से सिक्योरिटी कंपनी का बोगस ऑफिस खोलकर लोगों को फंसाने का काम करते थे. दरसअल मालाड पूर्व दिंडोशी पुलिस स्टेशन में एक शख्स ने शिकायत की थी कि मालाड स्टेशन के पास नेशनल सिक्योरिटी कंपनी का दफ्तर खुला था, पीड़ित व्यक्ति ने कंपनी में सिक्योरिटी सुपरवाइजर के पद के लिए आवेदन किया था. कंपनी की तरफ से आरोपियों ने उसे एक फॉर्म भरवाकर यूनिफॉर्म के नाम पर कम से कम ढाई से तीन हज़ार रुपये भरवाते थे. कई पीड़ितों से तो दस हजार रुपये लिए थे. 


फर्जी कंपनी चला रहे थे


काम के तौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री सहित VVIP लोगों के कार्यक्रमों में निजी सुरक्षा की जिम्मेदारी दी जाने की बात कही गई. पैसा भरने के बाद पीड़ित व्यक्ति को नौकरी जॉइन करने की तारिख अगले महीने की दे देते थे. ऐसे कंपनी के मैनेजर रोजाना करीब 40 लोगो को सिक्योरिटी गार्ड और सुपरवाइजर के पद पर काम दिलाने के नाम पर ढाई हजार से दस हज़ार रुपये ले लेते थे. करीब 3 महीने तक यह फर्जी ऑफिस नेशनल सिक्योरिटी के नाम पर चलता रहा. 


पुलिस ने धोखेबाज महिला कविता लाड और पुरुष अब्दुल हमीद शेख को गिरफ्तार कर लिया है. दिंडोशी पुलिस का कहना है कि सिक्योरिटी कंपनी का एकाउंट फ्रीज़ कर दिया गया है. पुलिस का निवेदन है कि जिन लोगों के साथ सिक्योरिटी गार्ड और सुपरवाइजर में नाम पर भर्ती होने की ठगी की गई है वह दिंडोशी पुलिस स्टेशन आकर अपना बयान दर्ज करा सकते हैं. पुलिस को आशंका है की पीड़ितों की संख्या मुंबई के बाहर भी है और करोड़ों रुपये की ठगी की गई है.

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.