Wednesday, 21 December 2022

Maharashtra: महाराष्ट्र ग्राम पंचायत चुनाव में किसकी हुई जीत? बीजेपी और उद्धव ठाकरे की शिवसेना के हैं अपने-अपने दावे

Maharashtra : महाराष्ट्र में ग्राम पंचायतों के लिए हुए चुनावों के नतीजे मंगलवार (20 दिसंबर) को जारी किए गए. बीजेपी, शिवसेना, कांग्रेस ने पंचायत चुनाव में अपनी-अपनी जीत का दावा किया है. शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) प्रमुख उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने कहा कि जीत का दावा करना बेमानी होगी क्योंकि ग्रामीण इलाकों में लोग स्थानीय समीकरण के आधार पर चुनाव लड़ते हैं. इसमें किसी पार्टी का सिंबल इस्तेमाल नहीं किया जाता इसलिए किसी पार्टी की हार या जीत कहना गलत है.


पूर्व सीएम उद्धव ठाकरे ने कर्नाटक सीमा विवाद को लेकर कहा कि महाराष्ट्र सरकार ना गंभीर है ना सक्षम है. कर्नाटक की दादागिरी चल रही है और महाराष्ट्र की सरकार हाथ पर हाथ धरे बैठी है. उद्धव ठाकरे गुट के नेताओं ने पंचायत चुनाव में अपनी जीत का दावा किया है. वहीं बीजेपी ने भी महाराष्ट्र में ग्राम पंचायत चुनाव के नतीजों में बड़ी जीत का दावा किया है. 


बीजेपी ने किया जीत का दावा


राज्य के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने ग्राम पंचायत चुनाव नतीजों पर कहा कि हमारे गठबंधन को शानदार जीत मिली है. उन्होंने कहा है कि लोगों ने ग्राम पंचायत चुनावों में बीजेपी और बालासाहेबंची शिवसेना को जनादेश दिया है. हम पूरे विदर्भ, कोंकण में जीते हैं. मैं लोगों को आश्वस्त करना चाहता हूं कि पीएम मोदी के नेतृत्व में हम लोगों की सेवा करते रहेंगे.


बीजेपी की महाराष्ट्र इकाई के अध्यक्ष चंद्रशेखर बावनकुले ने मंगलवार को दावा किया कि पार्टी ने राज्य में ग्राम पंचायत चुनाव में 3,500 से अधिक सीटें जीती हैं. बीजेपी समर्थित उम्मीदवारों ने 3,500 से अधिक सीटों पर जीत हासिल की है और मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाले शिवसेना गुट के समर्थित उम्मीदवार 1,000 से अधिक सीटों पर जीत रहे हैं.


कांग्रेस ने कहा सबसे ज्यादा सरपंच हमारे


वहीं कांग्रेस ने बीजेपी के दावे को झूठा कहकर खारिज कर दिया और कहा कि अकेले कांग्रेस से सबसे अधिक 900 से अधिक सरपंच चुने गए. राज्य कांग्रेस प्रमुख नाना पटोले ने कहा कि महा विकास अघाड़ी (एमवीए) की जीती गई सरपंच सीटों की संख्या बीजेपी की तुलना में कहीं ज्यादा है. कांग्रेस नेता ने बीजेपी को नागपुर जिले के सटीक आंकड़े पेश करने की चुनौती दी, जहां उन्होंने दावा किया कि उनकी पार्टी ने 200 से अधिक सरपंच सीटें जीती हैं.


महाराष्ट्र में रविवार (18 दिसंबर) को 7,135 ग्राम पंचायतों के लिए हुए चुनाव में 74 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया था. ग्राम पंचायत चुनाव आम तौर पर राजनीतिक दलों से संबद्धता के आधार पर नहीं लड़े जाते हैं. 


इन ग्राम पंचायतों में हुए थे चुनाव 


इन ग्राम पंचायतों में ठाणे (35), पालघर (62), रायगढ़ (191), रत्नागिरी (163), सिंधुदुर्ग (291), नासिक (188), धुले (118), जलगांव (122), अहमदनगर (195), नंदुरबार (117), पुणे (176), सोलापुर (169) और सतारा (259), सांगली (416), कोल्हापुर (429), औरंगाबाद (208), बीड (671), नांदेड़ (160), उस्मानाबाद (165), परभणी (119), जालना (254), लातूर (338), हिंगोली (61) शामिल हैं. 


इनके अलावा अमरावती (252), अकोला (265), यवतमाल (93), बुलढाणा (261), वाशिम (280), नागपुर (234), वर्धा (111), चंद्रपुर (58), भंडारा (304), गोंदिया (345), गढ़चिरौली (25) शामिल हैं. 

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.