Saturday, 3 December 2022

साढ़े तीन लाख लेकर गायब हुआ बालक मुंबई में मिला, चौबीस घंटे में उड़ाए अस्सी हजार

Mumbai: गुरूवार को साढ़े तीन लाख लेकर गायब हुए बालक को दुर्ग पुलिस ने ढूंढ लिया है। यह बालक दुर्ग से नवागढ़ जाने के लिए 1 दिसंबर गुरूवार को घर से निकला था, लेकिन वह घर पहुंचा ही नहीं था। इसलिए परिजनों ने इसकी शिकायत थाने में की थी। शिकायत के बाद पुलिस बालक की खोज कर रही थी।


लापता बालक को पुलिस ने मुंबई से बरामद किया है। बच्चे को सीडब्ल्यूसी की निगरानी में रखा गया है। दुर्ग पुलिस की एक टीम मुंबई के लिए रवाना होगी। बताया जा रहा है कि बालक ने पास रखे साढ़े तीन लाख रुपए में से तकरीबन ₹80000 रूपए खर्च कर दिए हैं।


जानकारी के मुताबिक, फानेश्वर साहू 15 वर्ष 1 दिसंबर को पैसा लेकर दुर्ग से नवागढ़, अपने माता-पिता के पास घर के लिए निकला था। मगर घर पहुंचने के बजाय वह मौज-मस्ती करने के लिए मुंबई चला गया। देर शाम तक जब वह घर नहीं पहुंचा तो परिजनों द्वारा दुर्ग पुलिस को इसकी जानकारी दी।


लगातार कर रहे थे ट्रेस

इस मामले में थाना प्रभारी प्रभात कुमार ने बताया कि, शिकायत मिलने के बाद से हमारी टीम बालक की ट्रेसिंग कर रहा था। ट्रेन बदल-बदल कर सफर करने के अतिरिक्त बालक मोबाइल भी बदल रहा था। इस वजह से उन्हें खोज पाने में काफी दिक्कत हो रही थी। काफी खोजबीन के बाद मुंबई में उसका लोकेशन मिला। इसके बाद मुंबई आरपीएफ की मदद से बच्चे को कब्जे में लिया गया। बच्चे को फिलहाल, सीडब्ल्यूसी की निगरानी में रखा गया है। अब बहुत जल्द एक टीम मुंबई के लिए रवाना होगी।


24 घंटे में उड़ाए अस्सी हजार

बालक अपने घर से साढ़े तीन लाख रूपए लेकर निकला था। मगर जब पुलिस को वह मिला तब उसके पास 2.70 रुपए ही मिले। इसका मतलब है कि बालक ने 24 घंटों के भीतर ₹70000 खर्च कर दिए। पुलिस को इस बालक के पास से तीन मोबाइल फोन भी मिले हैं।

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.