Friday, 23 December 2022

‘सुशांत की मैनेजर दिशा की मौत के समय कहां थे आप’, आदित्य ठाकरे ने आखिर तोड़ा अपना मौन


केंद्रीय गृहमंत्री नारायण राणे ने गुरुवार को अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में फिर एक बार दोहराया और इस बार तो सीधे-सीधे नाम लेकर कहा कि उनकी समझ से दिवंगत ऐक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मैनेजर रही दिशा सालियान की मौत के आरोपी हैं आदित्य ठाकरे. जहां दिशा सालियान की मौत हुई, वहां आदित्य ठाकरे को उस दिन कुछ लोगों ने देखा था. गुरुवार को ही महाराष्ट्र विधानसभा के शीत सत्र के चौथे दिन उनके बेटे और बीजेपी विधायक नितेश राणे ने विधानसभा में यह मुद्दा उठाया कि जिस दिन दिशा सालियान की मौत हुई, उस दिन आदित्य ठाकरे कहां थे?


नितेश राणे ने विधानसभा में कहा, ‘आखिर किस राजनीतिक दबाव की वजह से दिशा सालियान की मौत की जांच बंद की गई. उसकी इमारत का सीसीटीवी फुटेज गायब किया गया. 8 जून 2020 की पार्टी में कौन-कौन मौजूद था, जिसके बाद दिशा सालियान की मौत हुई, इन सबकी जांच होनी चाहिए.’ इसके बाद उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने इस केस की फिर से जांच करने के लिए एसआईटी के गठन का आदेश दे दिया.


‘जिस दिन दिशा सालियान की मौत हुई, उस रात मैं यहां था…’

नितेश राणे के आरोप का आज (शुक्रवार, 23 दिसंबर) आदित्य ठाकरे ने जवाब दिया है. आदित्य ठाकरे ने कहा, ‘दिशा सालियान की जब मौत हुई, उस दिन मेरे नाना की मौत हुई थी. इसलिए मैं अस्पताल में था. उन्हें जो कुछ भी बोलना है, बोलने दें. लेकिन सच्चाई यही है कि मुझ 32 साल के युवक से यह सरकार डर गई है. महाविकास आघाड़ी ने मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे का घोटाला सामने लाकर उनमें खलबली पैदा कर दी है.’ यह बात उन्होंने एक मराठी न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में कही.


‘सुशांत सिंह राजपूत केस में भी आदित्य का नाम लोकसभा में गूंजा’

बता दें कि आदित्य ठाकरे का नाम बुधवार को लोकसभा में गूंजा था. उनका नाम तब सुशांत सिंह राजपूत की मौत के कनेक्शन में लिया गया था. शिंदे गुट के सांसद राहुल शेवाले ने यह सवाल किया था कि सुशांत की मौत से पहले उसकी गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती के फोन पर AU नाम से 44 कॉल्स आए थे. रिया चक्रवर्ती ने इस नाम का मतलब ‘अनाया उदास’ बताया था, लेकिन सांसद ने बिहार पुलिस की रिपोर्ट के आधार पर इस नाम का मतलब ‘आदित्य उद्धव’ होने की आशंका जताई. हालांकि सीबीआई ने इस संबंध में कोई खुलासा नहीं किया है.

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.