Saturday, 31 December 2022

महाराष्ट्र के सांगली में इसाईयों का नंगा नाच... ICU में शुरू हुआ धर्मांतरण गैंग का ब्लैक मैजिक

महाराष्ट्र के सांगली जिले के आटपाडी तहसील में ईसाई धर्मातंरण गैंग का बोलबाला एक बार फिर सामने आया है. बता दें कि ईसाई धर्मांतरण गैंग के सरगना संजय गेले और उनकी पत्नी अश्विनी ने सांगली जिले के आटपाडी में एक मरीज पर 'चमत्कार' करने के लिए आईसीयू में भर्ती कराया था. 


धर्मातंरण गैंग के हौंसले इतने बुलंद थे कि पास्टर संजय गेले और उनकी पत्नी अश्विनी गेले ने झूठा बताया अस्पताल की गहन चिकित्सा इकाई यानी ICU में रोगियों का रिश्तेदार बनकर पहुंच गईं और रोगी के साथ ब्लैक मैजिक करने लगी. ईसाई दंपत्ति बिना इजाजत के आईसीयू में भी घुस गया और उन्होंने हिंदू रोगी के माथे पर अपनी उँगलियाँ फिराईं और बाइबिल पढ़कर झूठी सर्जरी का नाटक भी किया.


ईसाई धर्मांतरण गैंग के नंगा नाच के खिलाफ BJP विधायक ने आपत्ति जताई थी


वहीं, इस घटना की जानकारी जब हिंदू संगठनों को लगी तो उन्होंने विरोध प्रदर्शन किया और ईसाई पास्टर और उसकी पत्नी के खिलाफ ठोस कार्रवाई की मांग की साथ ही क्षेत्र में चल रही अवैध चर्चों के खिलाफ भी कार्रवाई की मांग उठाई गई है. ईसाई धर्मांतरण गैंग के नंगा नाच के खिलाफ बीजेपी विधायक गोपीचंद पाडलकर ने विधानसभा में आपत्ति जताई थी और संजय गेले की संपत्ति की जांच की मांग की थी.


संजय गेले लगातार हिंदुओं का धर्मांतरण कर रहा है


बता दें कि विधायक पाडलकर ने सदन को ये भी बताया कि में संजय गेले ने अवैध रूप से चर्च का निर्माण भी किया गया था. ऐसे में इस मामले में ठोस कार्रवाई की जानी चाहिए. इसाई गेल परिवार के पास आलीशान होटल, जेसीबी और पोकलैंड मशीन और कई जगहों पर जमीन है और वह लगातार हिंदुओं का धर्मांतरण कर रहा है. ईसाई उपदेशक संजय गेले को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया गया है. वहीं, उसकी पत्नी अभी फरार है.


 


Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.