Monday, 26 December 2022

कुल्लू में पैराग्लाइडिंग के दौरान सैकड़ों फुट की ऊंचाई से गिरा महाराष्ट्र का पर्यटक, हुई मौत


हिमाचल प्रदेश के कुल्लू (kullu) जिले के डोभी इलाके में पैराग्लाइडिंग (Paragliding) के दौरान महाराष्ट्र (Maharashtra) के 30 वर्षीय एक पर्यटक की गिरकर मौत हो गई. प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, पैराग्लाइडिंग के दौरान कुछ तकनीकी गड़बड़ी (Technical Fault) होने के कारण व्यक्ति सैकड़ों फुट ऊंचाई से गिर गया. पर्यटक की मौके पर ही मौत (Death) हो गई, जबकि पैराग्लाइडर का पायलट सुरक्षित है. मृतक की पहचान महाराष्ट्र के सतारा जिले के शिरवल गांव के सूरज संजय शाह (30) के रूप में हुई है. वह अपने दोस्तों के साथ मनाली घूमने आया था।


पैराग्लाइडिंग के दौरान नीचे गिरने से युवक की मौत

कुल्लू के पुलिस (Police) अधीक्षक (SP) गुरदेव शर्मा ने रविवार को बताया कि पुलिस को सूचना (Information) मिली कि डोभी इलाके में काफी ऊंचाई पर उड़ान भरने के दौरान पैराग्लाइडर से एक व्यक्ति गिर गया. उन्होंने कहा, पायलट सुरक्षित है, लेकिन पर्यटक की मौके पर ही मौत हो गई. एसपी ने कहा, ‘‘भारतीय दंड संहिता की धारा 336 (दूसरों के जीवन या व्यक्तिगत सुरक्षा को खतरे में डालने वाला कृत्य) और 304ए (लापरवाही से मौत) के तहत मामला दर्ज किया गया है.


पैराग्लाइडिंग से पहले भी हो चुकी है कई मौतें

हिमाचल में पहले भी पैराग्लाइडिंग के दौरान गिरने से कई लोगों की मौतें हो चुकी है. कुछ समय पहले बेंगलुरू के रहने वाले लड़के की भी मौत हो गई थी. पैराग्लाइडिंग के मामलों पर संज्ञान लेते हुए हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय (High Court) ने इस साल जनवरी में पैराग्लाइडिंग समेत कई अन्य एडवेंचर स्पोर्ट्स (Adventure Sports)  पर भी रोक लगा दी थी. जिसके बाद एक टेक्निकल कमेटी भी बनाई गई थी. इस कमेटी ने आवश्यक मानदंडो को पूरा करने वाले कुछ संचालकों को एडवेंचर स्पोर्ट्स की इजाजत दे दी थी. 


वही आपको बता दें कि गुजरात के मेहसाणा जिले के काडी में अभी बीते शनिवार को ही पैराग्लाइडिंग के दौरान एक दक्षिण कोरियाई व्यक्ति की मौत हो गई थी. यह व्यक्ति पैराग्लाइडिंग के दौरान 50 फीट की ऊंचाई से गिर गया था. 


Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.