Monday, 19 December 2022

कर्नाटक विधानसभा का शीतकालीन सत्र आज से शुरू, सीमा विवाद के बीच बेलगावी छावनी में तब्दील


कर्नाटक विधानसभा का शीतकालीन सत्र आज से शुरू हो गया है. बेलगावी शहर की सुरक्षा को देखते हुए पूरे शहर को छावनी में तब्दील कर दिया गया है. कर्नाटक और महाराष्ट्र में सीमा विवाद चल रहा है. विभिन्न समुदायों के विरोध को देखते हुए बेलगावी में सुरक्षा के कड़े इंतजाम कर दिए गए है.


बेलगावी की सुवर्ण विधान सौधा में जहां ये सत्र चल रहा है. विधानसभा को छावनी में बदल दिया गया है. चारों तरफ सिर्फ पुलिसकर्मी की तैनाती हैं. पुलिस सूत्रों के अनुसार  शहर में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए लगभग 5,000 पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है. इन पुलिसकर्मियों में छह पुलिस अधीक्षक, 11 अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, 43 उपाधीक्षक, 95 निरीक्षक और 241 उपनिरीक्षक शामिल हैं.  


बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी तैनात

सूत्रों ने यह भी कहा कि वैक्सीन डिपो मैदान में बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं जहां मध्यवर्ती महाराष्ट्र एकीकरण समिति बेलगावी को महाराष्ट्र में विलय की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रही है.


महाराष्ट्र सांसदों की बेलगावी में एंट्री पर लगी रोक

महाराष्ट्र के कुछ नेताओं ने बेलगावी में एंट्री करने की इच्छा जताई थी. महाराष्ट्र के सांसद धैर्यशील माने ने बेलगावी जिला प्रशासन से शहर में उनकी यात्रा की व्यवस्था करने का अनुरोध भी किया था. हालांकि जिला अधिकारियों ने शहर में उनकी एंट्री पर यह कहते हुए रोक लगा दिया कि उनके संभावित भड़काऊ भाषण से कानून व्यवस्था की समस्या पैदा हो सकती है. 


विधानसभा में कई विधेयक पर हो सकता है हंगामा

बता दें, एमईएस के अलावा, किसानों सहित विभिन्न समूह भी अपनी मांगों को लेकर बेलगावी में प्रदर्शन कर रहे हैं. ऐसे कई विधेयक हैं जिन्हें चालू सत्र में पेश किए जाने और पारित किए जाने की संभावना है. सूत्रों ने कहा कि एक विवादास्पद हलाल विरोधी बिल भी सत्र में एक बीजेपी विधायक की ओर से एक निजी बिल के रूप में पेश किया जा सकता है जिससे हंगामा हो सकता है.

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.