Wednesday, 7 December 2022

मुंबई में सांस लेना हो रहा मुश्किल, प्रदूषण खतरनाक स्तर तक पहुंचा, क्या है वजह?


महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में प्रदूषण का स्तर खतरनाक हो गया है. लोगों के लिए सांस लेना मुश्किल हो रहा है. पिछले कुछ दिनों से यह हाल बना हुआ है. कुछ दिनों पहले ही मुंबई की हवा में प्रदूषण का स्तर बेहद खराब हालत में पहुंच गया था. एक बार फिर मुंबई की एयर क्वालिटी खतरनाक स्तर पर पहुंच गई है. ऐसे में मुंबईकरों से अपना खयाल रखने को कहा गया है. इस वक्त मुंबई का एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई)293- खराब और 300-400 ‘बेहद खराब’ स्तर तक पहुंच गई है.

दरअसल वातावरण में धूल के कण बढ़ गए हैं इस वजह से चीजें धुंधली दिखाई दे रही हैं. हवा की क्वालिटी खराब होने की वजह से मुंबईकरों को खांसी और गले में खराश की समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है. ऐसी हालत में सांस लेने में परेशानी सामने आने पर खास खयाल रखने की जरूरत है.


समुद्र से आने वाली हवा की रफ्तार थमी, निर्माण काम में तेजी भी वजह बनी

तापमान में अचानक आई कमी और समुद्र से आने वाली हवाओं की रफ्तार में कमी की वजह से अगले कुछ दिनों तक ऐसा हा माहौल रहने वाला है. इसके अलावा मुंबई में कोस्टल रोड और मेट्रो जैसे विकास के काम भी पूरी तेजी से शुरू रहने की वजह से भी प्रदूषण का स्तर तेजी से गिरा है. ऐसे में मुंबई का एयरक्ववालिटी इंडेक्स खराब और बेहद खराब के पास तक पहुंच गया है.


दो दिनों तक हालात में सुधार के नहीं कोई आसार

पिछले हफ्ते मुंबई का एयर क्वालिटी इंडेक्स 232 और 270 के बीच था जो अब 293 और 300-400 तक पहुंच चुका है. अगले दो दिनों तक हालात में सुधार के कोई आसार नहीं दिखाई दे रहे हैं. यह अनुमान SAFAR की ओर से जारी किया गया है. ऐसे में खास तौर से सांसों की तकलीफ पर ध्यान देने की ज्यादा जरूरत है. जनता से अपील की गई है कि वे चेहरे पर मास्क का इस्तेमाल करें.


नवंबर से फरवरी में रहता है सबसे ज्यादा प्रदूषण

प्रदूषण का स्तर गिरने की वजह मुख्य रूप से तापमान में गिरावट और समुद्र से आने वाली हवाओं की रफ्तार में कमी को माना जा रहा है. इससे वाहनों से निकलने वाले धुएं वातावरण में ही बने रहते हैं. यही वजह है कि कुछ दिनों से प्रदूषण लगातार बढ़ता रहा है. आमतौर पर नवंबर से फरवरी तक मुंबई की हवा सबसे ज्यादा प्रदूषित होती है. इस बार नवंबर के दूसरे हफ्ते में मुंबई में एक्यूआई तो दिल्ली से भी खराब हो गई थी.

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.