Wednesday, 7 December 2022

खिलौने वाली बंदूक दिखाकर लोगों को लूटने वाला शातिर ऐसे पकड़ा गया, किया ये खुलासा

 


मुंबई में लूटपाट का एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है, जहां एक कैब ड्राइवर खिलौने वाली बंदूक से डराकर लोगों से लूटपाट की घटना को अंजाम दे रहा था। पुलिस ने आरोपी ड्राइवर को गिरफ्तार कर लिया है। नालासोपारा पुलिस ने रविवार को 25 साल के एक शख्स को खिलौने की बंदूक का इस्तेमाल कर एक जौहरी को लूटने के आरोप में गिरफ्तार किया है। आरोपी की पहचान कमलेश रामानंद गुप्ता के रूप में हुई है, जो ठाणे जिले के दिवा में रहता है।

पुलिस ने बताया है कि, आरोपी कैब ड्राइवर है, उसने कथित तौर पर 26 नवंबर को नालासोपारा में नेकलेस ज्वेलरी स्टोर से खिलौने की बंदूक का इस्तेमाल कर 10 लाख रुपये के गहनों की लूट की है। पुलिस के अनुसार, आरोपी ने लूट की घटना को अंजाम देने के लिए 24 नवंबर को जौहरी की दुकान के आसपास का अध्ययन किया था।


ग्राहक बनकर घुसा था दुकान में

पुलिस ने बताया है कि, आरोपी के खिलाफ पहले से ही डकैती के मामले दर्ज हैं। उसने 24 नवंबर को नालासोपारा में एक यात्री को छोड़ा था। इस दौरान उसने इलाके का अध्ययन किया था और नेकलेस ज्वेलरी स्टोर को अपना लक्ष्य बनाया था। पुलिस ने जानकारी दी है कि, आरोपी पर लाखों रुपये का कर्ज है। इसलिए उसने छोटी या फिर बिना किसी निगरानी वाली गहने की दुकान को लूटने का फैसला किया। नालासोपारा पुलिस स्टेशन के एक अधिकारी ने कहा है कि, एक दुकान से खिलौने वाली बंदूक खरीदने के बाद, वह गहने की दुकान में गया और खुद को एक ग्राहक बताया। फिर उसने दुकान के मालिक सुरेश कुमार धाकड़ से चांदी के कुछ गहने दिखाने को कहा।


ऐसे दिया घटना को अंजाम

गहनों की खरीद का नाटक करने के कुछ देर बाद आरोपी ने अपना बैग दुकान के काउंटर पर रख दिया। दुकान के मालिक सुरेश ने उसे बैग नीचे रखने के लिए कहा। इतने में आरोपी ने अपने बैग से एक 'बंदूक' निकाली और दुकान के मालिक सुरेश पर तान दी। पुलिस ने बताया है कि, सुरेश ने बंदूक देखी तो आरोपी पर हमला कर दिया और दोनों के बीच हाथापाई हो गई। वहीं आसपास के राहगीरों को लगा कि, दोनों आपस में सिर्फ लड़ रहे हैं और उन्होंने दोनों को अलग कर दिया, जबकि आरोपी 10 लाख रुपये के सोना लेकर भाग गया। शिकायत दर्ज होने के बाद पुलिस ने मुंबई अहमदाबाद हाईवे तक के सीसीटीवी फुटेज खंगाले। उन्होंने देखा कि, आरोपी मौके से भागने के लिए कैब में सवार हो गया था। कैब की डिटेल मिलने के बाद पुलिस दिवा पहुंची, जहां आरोपी रहता था, जहां से पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया। आरोपी के खिलाफ नागपाड़ा, वाशी और रबाले थानों में ज्वेलरी स्टोर लूटने के तीन मामले दर्ज हैं।

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.