Monday, 19 December 2022

Mumbai: मुंबई पुलिस की बड़ी कार्रवाई, तीन ड्रग्स तस्करों को दबोचा, 135 लाख की ड्रग्स बरामद

Maharashtra : मुंबई पुलिस की एंटी नारकोटिक्स सेल ने दो अलग-अलग मामलों में तीन ड्रग्स तस्करों (Drug Peddlers ) को गिरफ्तार किया है. मुंबई पुलिस की एंटी नारकोटिक्स सेल की वर्ली यूनिट ने मझगांव इलाके से एक नाइजीरियाई ड्रग पेडलर को गिरफ्तार किया है और उसके कब्जे से एमडी और मेथामफेटामाइन ड्रग्स जब्त किया है. अंतरराष्ट्रीय बाजार में इसकी कीमत 35.30 लाख रुपये आंकी गई है. पुलिस ने ड्रग पेडलर पर एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है.


ड्रग तस्करी का एक दूसरा मामला मुंबई के बांद्रा से सामने आया है. मुंबई पुलिस की एंटी नारकोटिक्स सेल की बांद्रा यूनिट ने दो ड्रग्स तस्करों को गिरफ्तार किया है और उनके पास से 500 ग्राम एमडी ड्रग्स बरामद की है जिसकी कीमत 1 करोड़ रुपए बताई जा रही है. दोनों तस्करों के खिलाफ  एनडीपीएस एक्ट के तहत  मामला दर्ज किया गया है और पुलिस आगे की जांच में जुट गई है.


भारत में लगातार बढ़ रहे ड्रग्स तस्करी के मामले


भारत सहित महाराष्ट्र में ड्रग्स तस्करी के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. चार दिन पहले नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) की मुंबई जोनल यूनिट ने एक अंतर-राज्य मादक पदार्थ तस्करी रैकेट का भंडाफोड़ करते हुए पांच लोगों को गिरफ्तार किया था और उनके पास से 15 लाखर रुपए की ड्रग्स जब्त की थी. चार दिनों तक चले इस ऑपरेशन में एनसीबी के अधिकारियों ने मुंबई, ठाणे और नवी मुंबई में विभिन्न स्थानों पर छापे मारे और एक महिला सहित पांच व्यक्तियों के कब्जे से 1,400 से अधिक कोडीन आधारित खांसी की दवाई (सीबीसीएस) की बोतलें और 6,000 नाइट्राजेपाम की गोलियां जब्त कीं थी.


ड्रग्स तस्करी का गैंग केवल मुंबई में ही नहीं पंजाब, असम और देश के अलग-अलग राज्यों में भी सक्रिय है. नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) द्वारा जारी की गई एक रिपोर्ट के मुताबिक इस साल ड्रग्स तस्करी के मामलों में एनडीपीएस एक्ट के तहत सबसे अधिक मामले 10432 उत्तर प्रदेश में दर्ज हुए हैं, इसके बाद दूसरे नंबर पर महाराष्ट्र (10,078) और  9,972 मामलों के साथ पंजाब तीसरे नंबर पर है.

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.