Thursday, 22 December 2022

3 पत्नियां फिर भी मोहब्बत... और प्रेमिका की हत्या; एक सैंडल से ऐसे सुलझा मर्डर केस

 

Mumbai Police: नवी मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच ने दो लोगों को एक महिला की हत्या करने के आरोप में गिरफ्तार किया है. आरोप है कि प्रेमिका लगातार अपने प्रेमी पर शादी करने का दबाव बना रही थी.

By: मनीषा तिवारी  | Updated at : 22 Dec 2022 3:25 PM 


Mumbai Crime News: नवी मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच ने दो लोगों को एक 27 साल की महिला की चलती कार में गला घोंट कर हत्या करने और उसके अवशेषों को माथेरान के पास धामनी गांव के नदी तट पर फेंकने के आरोप में गिरफ्तार किया है. पुलिस ने बताया की मृतक महिला का नाम उर्वशी सत्यनारायण वैष्णव है. गिरफ्तार आरोपियों का नाम रियाज समद खान (36) है जो पेशे से जिम ट्रेनर है. और दूसरा आरोपी इमरान शेख (28) है जो पेशे से एक कूरियर डिलीवरी बॉय का काम करता है.

महिला से चल रहा था एक्ट्रा मैरिटल अफेयर
पुलिस ने बताया कि खान, शादीशुदा है और उसका एक बेटा है. उसका पिछले छह महीनों से नवी मुंबई के कोपरखैरने की रहने वाली उर्वशी के साथ एक्ट्रा मैरिटल अफेयर चल रहा था. पुलिस ने जांच में पाया की उर्वशी खान पर शादी का दबाव डाल रही थी जिस वजह से खान ने प्लानिंग कर उर्वशी की हत्या कर दी. क्राइम ब्रांच के डीसीपी अमित काले ने बताया की 13 दिसंबर की शाम 5 बजे खान उर्वशी के घर पहुंचा, जिसके बाद शाम को 9 बजे खान उर्वशी को लेकर उसके घर से निकला. उर्वशी एक बार में डांसर के तौर से काम करती थी. खान ने उर्वशी से कहा की वो उसे उसके बार तक छोड़ देगा. गाड़ी में भी उर्वशी खान से शादी को बात कर रही थी, इसी बीच खान ने अपने दोस्त शेख को गाड़ी में बैठा लिया.

इस तरह दिया घटना को अंजाम
पुलिस ने बताया की जैसे ही गाड़ी आगे बढ़ी शेख ने रस्सी की मदद से उर्वशी का गला घोटना शुरू कर दिया और उसी दौरान खान ने उर्वशी के दोनों हाथ पकड़े रखा ताकि वो अपने आपको बचाने की कोशिश ना कर पाये. चलती कार में उर्वशी की हत्या करने के बाद उसकी डेड बॉडी को आरोपियों ने रात के समय माथेरान के धामनी नदी में फेंक दिया. 14 दिसंबर को नवी मुंबई पुलिस को जानकारी मिली कि नदी के किनारे एक महिला का शव मिला है. पुलिस ने बताया की पोस्टमॉर्टम जांच रिपोर्ट से पता चला है कि उस महिला की हत्या गला दबाकर की गई थी, जिसके बाद पनवेल तालुका पुलिस स्टेशन में हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई.

सैंडल ने कैसे खोला हत्या का राज?
चूंकि क्राइम स्पॉट ऐसी जगह है जहां पर ना ही प्रत्यक्षदर्शी थे और न ही सीसीटीवी कैमरा फुटेज. पुलिस ने बताया की जब महिला का शव मिला था तब उसके पैर में सैंडल मिली थी उस सैंडल पर दुकान का टैग लगा था जहां से उसे खरीदा गया था. इसके बाद पुलिस की एक टीम वाशी में स्थित उस सैंडल की दुकान पर गई और पुलिस ने वहां के सीसीटीवी कैमरे के फुटेज की बारीकी से जांच की. फुटेज की जांच के दौरान पुलिस को उर्वशी और खान दिखाई दिये जो की सैंडल खरीदते हुए दिख रहे थे.

आरोपी गिरफ्तार
डीसीपी अमित काले ने बताया की, फुटेज की जांच के दौरान हमने नोटिस किया की खान का फिजिक अच्छा लग रहा था उसे देखकर अनुमान लगाया गया की हो सकता है खान किसी जिम में ट्रेनर हो जिसके बाद उस इलाके में जीतने भी जिम हैं हर जगह उसकी फोटो भेजकर जांच की गई तो पता चला को वो घनसोली के एक जिम में ट्रेनर के तौर पर काम करता है. पुलिस ने इसके बाद खान को हिरासत में लिया और पूछताछ की और फिर शेख को हिरासत में लेकर पूरे मामले को समझा और फिर दोनों को गिरफ्तार किया और आगे की जांच के लिए पनवेल तालुका पुलिस को सौंप दिया गया.

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.