Monday, 28 November 2022

कर्नाटक के सीएम बोम्मई का कल दिल्ली दौरा: जेपी नड्डा से करेंगे मुलाक़ात


महाराष्ट्र व कर्नाटक के बीच सरहदी तनाज़े को लेकर छिड़ी ज़बानी जंग के बीच कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मई मंगल को दिल्ली दौरे पर रहेंगे. अपने दिल्ली दौरे के दौरान सीएम बोम्मई इस मामले में बीजेपी के क़ौमी सद्र जेपी नड्डा से मुलाक़ात करेंगे. इसके अलावा वे सुप्रीम कोर्ट के एक सीनियर वकील से भी सलाह लेंगे. सीएम बोम्मई मंगल को दिल्ली पहुंचेंगे. जेपी नड्डा से बोम्मई की मुलाक़ात काफ़ी अहम मानी जा रही है, क्योंकि गुजरात असेंबली इलेक्शन के बाद कर्नाटक मंत्रिमंडल के विस्तार की भी उम्मीद ज़ाहिर की जा रही है.


जेपी नड्डा से करूंगा मुलाक़ात: बोम्मई

28 नवंबर को बेंगलुरु में पत्रकारों से बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री बोम्मई ने कहा, 'मैं पार्टी प्रेसिडेंट जेपी नड्डा से मुलाक़ात करने दिल्ली जा रहा हूं, अभी समय नहीं मिला है, लेकिन मुलाक़ात की उम्मीद है. कर्नाटक के सीएम ने यह भी कहा कि वे सीनियर वकील मुकुल रोहतगी से भी मुलाक़ात करेंगे. इसके अलावा वे केंद्रीय वाणिज्य व उद्योग मंत्री पीयूष गोयल से भी मिलेंगे. इस मुलाक़ात के दौरान महाराष्ट्र व कर्नाटक के बीच सीमा विवाद के अलावा काबीना के विस्तार पर बात होगी.

 

सीएम पर मंत्रिमंडल के विस्तार का दबाव

कर्नाटक के सीएम बोम्मई पर अपनी कैबिनेट के विस्तार का भी काफ़ी दबाव है. अगले साल होने वाले असेंबली इलेक्शन के पहले कुछ नए चेहरों को जगह देने की लंबे वक़्त से मांग की जा रही है. कैबिनेट में छह ओहदे ख़ाली  हैं, उन्हें भरने के साथ कुछ मंत्रियों की छंटनी करके नए चेहरों को मंत्रिमंडल में जगह दी जा सकती है. वहीं दूसरी तरफ़ कर्नाटक ने सीमा विवाद को लेकर महाराष्ट्र के साथ क़ानूनी लड़ाई शुरू करने की तैयारी कर ली है. इसीलिए सीएम बोम्मई सीनियर वकील रोहतगी से मिलकर इस मामले में सलाह-मश्विरा करेंगे. बता दें कि महाराष्ट्र व कर्नाटक तनाज़े पर सुप्रीम कोर्ट में बुध यानि 30 नवंबर से सुनवाई शुरू होगी.  

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.