Saturday, 26 November 2022

शिंदे गुट कामाख्या देवी के दर्शन के लिए गुवाहाटी दौरे पर, 5 विधायकों और 1 सांसद ने बनाई दूरी

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे अपने समर्थक विधायकों और सांसदों के साथ आसाम दौरे पर हैं. यहां वे गुवाहाटी में कामाख्या देवी के मंदिर में दर्शन के लिए जाएंगे. सीएम शिंदे के साथ ना सिर्फ शिंदे गुट के विधायक और सांसद हैं बल्कि वे निर्दलीय विधायक भी हैं जिन्होंने उद्धव ठाकरे के खिलाफ बगावत के वक्त शिंदे गुट का साथ दिया था और उनके साथ गुवाहाटी में डेरा जमाया था. लेकिन शिंदे समर्थक 5 विधायक और 1 सांसद अन्य कार्यक्रमों में व्यवस्तता की बात कर गुवाहाटी दौरे पर नहीं गए.


दूसरी तरफ उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के 2 करीबी लोग इस दौरे में शिंदे गुट के साथ हैं. इनमें से एक हैं बीजेपी नेता मोहित कंबोज और दूसरे रवींद्र चव्हाण. मोहित कंबोज तब भी शिंदे गुट के साथ सूरत में दिखे थे जब शिंदे गुट के विधायक उद्धव ठाकरे के नेतृत्व से बगावत कर सूरत पहुंचे थे और बाद में वहां से गुवाहाटी के लिए रवाना हो गए थे. एक बार फिर खासकर मोहित कंबोज का शिंदे गुट के साथ दिखाई देने पर महाराष्ट्र की राजनीति में क्या नया पक रहा है, यह जानने की लोगों में उत्सुकता बढ़ गई है.


शिंदे गुट के साथ बीजेपी के दो नेता भी गुवाहाटी दौरे पर

शिंदे गुट के साथ गुवाहाटी जाने की वजह बताते हुए बीजेपी विधायक रवींद्र चव्हाण ने बताया कि सीएम एकनाथ शिंदे ने मुझे कॉल कर बताया कि रवि हमें, गुवाहाटी देवी के दर्शन के लिए चलना है. मुख्यमंत्री का आदेश होने की वजह से मैं देवी के दर्शन के लिए जा रहा हूं. यह हिंदुत्ववादी विचारों की सरकार है. हमें कहीं ना कहीं अपने कामों में देवी-देवताओं के आशीर्वाद और कृपा की जरूरत पड़ती है. इसलिए सीएम शिंदे ने कहा कि कामाख्या देवी का दर्शन करने चलना है.


मोहित कंबोज ने भी सरकार सही तरह से चले, जनता का काम पूरा हो, ऐसी मन्नतें पूरी करने के लिए सीएम शिंदे के गुवाहाटी दौरे का समर्थन किया. पिछली बार गुवाहाटी में स्टे के दौरान शिंदे-फडणवीस सरकार को साकार किया जा रहा था. तब एकनाथ शिंदे ने राज्य में स्थिर तैयार हो, ऐसा सीएम शिंदे ने यहां देवी से यह मन्नत मांगी थी.यह मन्नत पूरी होने के बाद देवी का आशीर्वाद फिर से लेने सीएम शिंदे का यह गुवाहाटी दौरा हुआ है.


शिंदे समर्थक ये विधायक और सांसद दौरे से दूर

जो शिंदे समर्थक विधायक और सांसद दौरे पर नहीं गए हैं, उनमें चंद्रकांत पाटील, अब्दुल सत्तार, गुलाबराव पाटील, तानाजी सावंत, महेंद्र दलवी, संजय गायकवाड़ और सांसद श्रीरंग बारणे शामिल हैं. पिछले कुछ दिनों से सीएम शिंदे लगातार चर्चा का मुद्दा बनता रहा है. पिछले दिनों नासिक दौरे के दौरान बताया जा रहा है कि उन्होंने ज्योतिष से सलाह ली थी और अपने हाथ दिखाए थे. ठाकरे गुट के सांसद संजय राउत ने शुक्रवार को मीडिया से बात करते हुए कहा कि जिनमें आत्मिश्वास नहीं होता है, वे ही ज्यादा ज्योतिष के चक्कर में पड़ते हैं. लेकिन याद रहे अघोरी विद्या के चक्कर में पड़ने वालों का अंत भी अघोरी जैसा भयंकर होता है.


ऐसा है सीएम शिंदे और उनके समर्थकों का गुवाहाटी में कार्यक्रम

आज (26 नवंबर, शनिवार) सुबह साढ़े नौ बजे मुख्यमंत्री के साथ उनके समर्थक गुवाहाटी के लिए मुंबई से रवाना हुए. आसाम में महाराष्ट्र के सीएम के स्वागत की खास तैयारी की गई. जगह-जगह उनके अभिवादन के पोस्टर और बैनर लगे हैं. मुख्यमंत्री शिंदे का अपने समर्थकों के साथदोपहर 2:00 से 3:00 के बीच करेंगे कामाख्या देवी के दर्शन का कार्यक्रम है. शाम को 5:00 बजे मुख्यमंत्री और उनकी विधायकों की बैठक है. मुलाकात के दौरान पर्यटन विकास को लेकर चर्चा होगी और राज्य में पर्यटन को लेकर कुछ एमओयू साइन किए जाएंगे.

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.