Thursday, 29 September 2022

‘महाराष्ट्र में फिर सत्ता में शरद पवार, बस एक दौरे की दरकार’, सुप्रिया सुले का बड़ा बयान

महाराष्ट्र में फिर एक बार सत्ता में लौटेंगे शरद पवार, बस राज्य भर के एक दौरे की है दरकार. यह दावा एनसीपी नेता और सांसद सुप्रिया सुले ने किया है. उनके मुताबिक शरद पवार जब भी महाराष्ट्र का दौरा करते हैं, सत्ता में लौटते हैं. शरद पवार सत्ता में रहते हैं, तो राजधानी में जमे रहते हैं, जैसे ही विपक्ष में आते हैं, महाराष्ट्र दौरे पर निकल जाते हैं. राज्य भर के सफल दौरे के बाद वे फिर सत्ता में लौट आते हैं. शरद पवार की सफलता का यही सीक्रेट है जो सुप्रिया सुले ने शेयर किया है.


सुप्रिया सुले इंदापुर में आयोजित एक कार्यक्रम में बोल रही थीं. उन्होंने कहा, ‘ चुनाव क्या होता है, हमसे ज्यादा किसी और ने नहीं देखा है. शरद पवार के 55 साल के राजनीतिक करियर को देखें तो इस डगर में जितने शिखर हैं, उतने ही भंवर हैं. 55 साल में वे 27 साल सत्ता में और 27 साल विपक्ष में रहे. दोनों ही दौर में महाराष्ट्र ने उन्हें अपार प्रेम दिया है.वे भी जहां रहे, महाराष्ट्र उनके दिल से कभी दूर नहीं गया है.’


‘विपक्ष में आते ही दौरे पर जाते हैं, दौरे पर जाते ही सत्ता में आते हैं’

सुप्रिया सुले ने कहा, ‘शरद पवार जब-जब विपक्ष में आते हैं, दौरे पर निकल जाते हैं. जब-जब दौरे पर जाते हैं, सत्ता में लौट आते हैं. उनके महाराष्ट्र दौरे में ऐसा क्या घटता है, मुझे अब तक पता नहीं चल पाया है. पर यह जरूर पता है कि अब तक ऐसा ही होता आया है.’


‘सबने सोचा NCP गई, सोलापुर दौरा हुआ और आघाड़ी आई’

एनसीपी सांसद ने आगे कहा, ‘महाविकास आघाड़ी सरकार आएगी, किसी ने यह सपने में भी नहीं सोचा था. सब यही सोच रहे थे कि एनसीपी तो अब खत्म हो गई. रोज सुबह उठो तो यही सबसे पहले सुनना पड़ता था कि पार्टी छोड़-छोड़ कर कौन गए. शाम तक राहत की सांस लेते थे कि चलो ये रह गए, वो रह गए. दूसरे दिन सुबह की शुरुआत भी उन्हीं खबरों के साथ होती थी. इतने लोग पार्टी छोड़ कर जा रहे थे कि हिसाब नहीं था. दोनों जेबें खाली होने पर जैसा महसूस होता है, वैसा हो रहा था. लेकिन शरद पवार के सोलापुर दौरे के बाद जो कुश्ती शुरू हुई वो चुनाव परिणाम आने के बाद ही जाक रुकी.’

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.