Wednesday, 29 June 2022

Maharashtra : गुवाहाटी में शिवसेना के बागी विधायकों की बस में बैठे दिखे बीजेपी के मंत्री पीयूष हजारिका

मुंबई: गुवाहाटी के रैडिसन ब्लू होटल के बाहर खड़ी बस में जब शिवसेना (Shiv Sena)  के विधायकों को बैठाया गया तो उनके साथ बीजेपी के नेता बस में बैठे दिखे।  शिवसेना के बागी विधायकों के साथ बस में बैठकर असम (Assam) के संसदीय कार्य मंत्री पीयूष हजारिका (Piyush Hazarika) और राज्य के अन्य भाजपा नेता (BJP Leaders) महाराष्ट्र के बागी विधायकों के साथ कामाख्या मंदिर गए. शिवसेना के बागी विधायकों के नेता एकनाथ शिंदे ने विधायकों के साथ गुवाहाटी में कामाख्या मंदिर (Kamakhya Temple) में दर्शन किये. गुरुवार को महाराष्ट्र विधानसभा में फ्लोर टेस्ट होना है, इसके लिए शिंदे अपने समर्थक विधायकों के साथ मुंबई आ रहे हैं. शिंदे ने मंदिर के बाहर मीडिया से कहा कि वह बची हुई औपचारिकताएं पूरी करने के लिए गुरुवार को मुंबई लौटेंगे। 


खबर है कि विद्रोही शिवसेना के विधायकों का अगला पड़ाव गोवा का ताज रिजॉर्ट एंड कन्वेंशन सेंटर हो सकता है. यहां कथित तौर पर 70 कमरे बुक किए गए हैं. सूत्रों के मुताबिक गोवा में शाम करीब साढ़े चार बजे निजी जेट विमानों के उतरने की उम्मीद है. गुवाहाटी के रैडिसन ब्लू होटल गेट के पास शिवसेना विधायक बस दिखाई दे रहे हैं. यहां बागी विधायकों को बाहर निकालने के लिए सुरक्षा बढ़ा दी गई है. सूत्रों का कहना है कि वे एक चार्टर्ड स्पाइसजेट की उड़ान से शाम को तटीय राज्य गोवा के लिए उड़ान भरेंगे. समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार, एकनाथ शिंदे और अन्य बागी विधायकों के साथ असम के संसदीय कार्य मंत्री पीयूष हजारिका और राज्य के अन्य भाजपा नेता हैं। 

गोवा में बीजेपी की सरकार है और वह मुंबई के करीब स्थित है.ऐसे में गोवा उन विधायकों के लिए एक सुविधाजनक स्थान होगाय जिन्हें कल सुबह विशेष महाराष्ट्र विधानसभा सत्र के लिए उपस्थित होना होगा, जहां मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को बहुमत साबित करने के लिए एक फ्लोर टेस्ट का सामना करना पडे़गा.


महाराष्ट्र एसेंबली में फ्लोर टेस्ट कल

महाराष्ट्र के राज्यपाल ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से कल बहुमत साबित करने को कहा है. राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने विधानसभा सचिव राजेंद्र भागवत को पत्र लिखकर सुबह 11 बजे विशेष सत्र बुलाने का आह्वान किया है. इसके बाद शिवसेना के मुख्य सचेतक सुनील प्रभु ने राज्यपाल के आदेश को चुनौती देते हुए सर्वोच्च न्यायालय का रुख किया. मामले में उद्धव ठाकरे का प्रतिनिधित्व कर रहे वरिष्ठ अधिवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी के शीर्ष अदालत में पक्ष रखा. सुप्रीम कोर्ट आज इस मामले में शाम 5 बजे सुनवाई करेगा। 

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.