Thursday, 30 June 2022

Maharashtra: आज मुंबई आ सकते हैं एकनाथ शिंदे और बागी विधायक, ताज होटल में रुकने की संभावना

मुंबई: महाराष्ट्र में बुधवार को दिन भर चले राजनीतिक खींचतान के बाद, उद्धव ठाकरे ने राज्य के मुख्यमंत्री पद से और विधान परिषद के सदस्य के रूप में इस्तीफा दे दिया। महाराष्ट्र विधानसभा सचिव राजेंद्र भागवत ने गुरुवार सुबह सभी राज्य विधायकों को सूचित किया कि राज्यपाल के आदेश के अनुसार, अब फ्लोर टेस्ट की कोई आवश्यकता नहीं है, इसलिए आज का विशेष सत्र नहीं बुलाया जाएगा। सुप्रीम कोर्ट के बुधवार को राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के बहुमत परीक्ष के आदेश पर रोक लगाने से इनकार करने के तुरंत बाद महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने फेसबुक लाइव आकर इस्तीफे की घोषणा की थी। उन्होंने देर रात राज्यपाल से मिलकर अपना इस्तीफा सौंपा। 

एकनाथ शिंदे और अन्य बागी विधायक आज गोवा से मुंबई लौट सकते हैं। ताज होटल में उनके ठहरने की संभावना है. देवेंद्र फडणवीस आज शाम ताज में एकनाथ शिंदे और अन्य बागी विधायकों से मुलाकात कर सकते हैं। दोनों नेताओं के बीच इस मुलाकात के दौरान 1 जुलाई को नई सरकार के शपथ ग्रहण पर मुहर लग सकती है।  सूत्रों की मानें तो देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व वाली नई सरकार में मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री समेत कुल 38 मंत्री हो सकते हैं. इनमें 29 कैबिनेट मंत्री और 9 राज्य मंत्री होंगे. भाजपा से 20 कैबिनेट और 5 राज्य मंत्री, जबकि शिंदे गुट से 9 कैबिनेट और 4 राज्य मंत्री शपथ ले सकते हैं. पूववर्ती महा विकास अघाड़ी सरकार में शिवसेना कोटे से मंत्री रहे सभी बागी विधायकों के नई सरकार में मंत्री बनने की संभावना है। 


मुख्यमंत्री के रूप में अपने आखिरी संबोधन में क्या बोले उद्धव ठाकरे?

इससे पहले बुधवार रात उद्धव ठाकरे ने अपने संबोधन में कहा, ‘मैं मुख्यमंत्री और विधान परिषद के सदस्य के रूप में अपने पद से इस्तीफा दे रहा हूं. मैं अप्रत्याशित तरीके से (सत्ता में) आया था और मैं इसी तरह से बाहर जा रहा हूं. मैं हमेशा के लिए नहीं जा रहा हूं, मैं यहां रहूंगा, और मैं एक बार फिर शिवसेना भवन में बैठूंगा. मैं अपने सभी लोगों को इकट्ठा करूंगा.’ कुछ निर्दलीय विधायकों के साथ शिवसेना के 2/3 से अधिक बागी विधायक एमवीए गठबंधन सरकार के खिलाफ विद्रोह दिखाते हुए 22 जून से असम की राजधानी गुवाहाटी में डेरा डाले हुए थे. इस विद्रोही गुट का नेतृत्व एकनाथ शिंदे कर रहे थे. फेसबुक लाइव पर अपने संबोधन के दौरान उन्होंने बागी विधायकों को शुभकामनाएं दीं. कहा कि वे मंत्री बने और नए दोस्त बनाएं। 


खुद गाड़ी चलाकर राजभवन पहुंचे, राज्यपाल को इस्तीफा सौंपा

उद्धव ठाकरे बुधवार देर रात मातोश्री से खुद गाड़ी चलाकर राजभवन पहुंचे और राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी को अपना इस्तीफा सौंपा. उद्धव के साथ उनके दोनों बेटे तेजस और आदित्य भी मौजूद रहे. राज्यपाल ने उद्धव ठाकरे का इस्तीफा स्वीकार कर लिया और वैकल्पिक व्यवस्था होने तक कार्यकारी सीएम बने रहने के लिए कहा है. गवर्नर को अपना इस्तीफा सौंपने के बाद उद्धव ठाकरे ने बेटे आदित्य और तेजस के साथ मंदिर में पूजा-अर्चना की. शिवसेना प्रवक्ता और राज्यसभा सांसद संजय राउत ने ट्वीट किया और कहा कि उद्धव ठाकरे के रूप में महाराष्ट्र ने एक समझदार और संवेदनशील मुख्यमंत्री खो दिया। 

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.