Tuesday, 22 November 2022

एमपी के खालसा स्टेडियम में नहीं रुकेगी राहुल गांधी की यात्रा, सिख समाज के विरोध के बाद लिया गया फैसला

गुरुनानक जयंती के पर पीसीसी अध्यक्ष कमलनाथ सिख समाज के कार्यक्रम में भाग लेने खालसा स्टेडियम पहुंचे थे. लेकिन, सिख समाज ने कमलनाथ का विरोध किया था. सिख समाज ने खालसा स्टेडियम में कमलनाथ के प्रवेश पर रोक लगाने की भी बात कही थी. इसके बाद अब राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के रुकने के स्थान में बदलाव किया जा रहा है. पहले यात्रा खालसा स्टेडियम में ही रुकने वाली थी, लेकिन अब कांग्रेस पार्टी ने इसके लिए चिमनबाग मैदान को निर्धारित किया है.


दरअसल, कांग्रेस नेता राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा 23 नवंबर को महाराष्ट्र से होते हुए बुरहानपुर से मध्य प्रदेश में दाखिल होगी और अपनी यात्रा जारी रखते हुए 26 नवंबर को  इंदौर जिले में प्रवेश कर इंदौर में 27 को पहुंचेगी. जहा इंदौर में यात्रा का रात्रि विश्राम अब खालसा स्टेडियम के बजाय चिमनबाग मैदान पर किया जाना तय किया गया है. 


प्रियंका गांधी को भी भेजा गया न्योता

इंदौर कांग्रेस पार्टी द्वारा नियत स्थान तय कर इंदौर पुलिस को अनुमति पत्र दिया गया था, जिसे देर रात एडिशनल डीसीपी राजेश रघुवंशी द्वारा चिमनबाग मैदान में यात्रा के विश्राम के अनुमति जारी कर दी है. प्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी को भी यात्रा में शामिल होने का न्योता भेजा है. हालांकि, प्रियंका गांधी इंदौर जिले में यात्रा के दौरान शामिल होंगी या नहीं, अभी यह निश्चित नहीं है.


प्रदेश कांग्रेस पार्टी द्वारा राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा का कार्यक्रम बीती सोमवार देर रात जारी कर दिया गया था. इसके अनुसार, अब राहुल गांधी 26 नवंबर को संविधान दिवस पर महू में बाबा साहब आंबेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने पहुंचे. इसके बाद महू के ही ड्रीम लैंड चौराहे पर नुक्कड़ सभा करना तय हुआ है और फिर रात्रि विश्राम दशहरा मैदान महू में ही होगा.  27 नवंबर को सुबह 8 बजे यात्रा महू से चलकर राऊ पहुंचेगी. उसी दिन शाम 6.30 बजे यात्रा इंदौर शहर के ह्रदय स्थल राजबाड़ा पर अहिल्यामाता की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर सभा होगी. इसके बाद चिमनबाग में रात्रि विश्राम करना तय हुआ है.


28 नंबर को यात्रा का साप्ताहिक ब्रेक होगा. इस दिन कोई कार्यक्रम नहीं रखा गया है. 29 नवंबर को सवेरे से फिर यात्रा शुरू होगी, जो इंदौर से सांवेर की तरफ बढ़ेगी. जहा सांवेर में रात्रि विश्राम कर अगले दिन उज्जैन में पहुंचना तय हुआ जहा राहुल गांधी द्वारा बड़ी सभा करना प्रस्तावित है. (समय रहते यात्रा में बदलाव भी किए जा सकते हैं.)


राहुल गांधी की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम

बता दें कि पिछले दिनों से खालसा स्टेडियम में प्रकाश पर्व पर कीर्तनकार ने नेताओं की उपस्थिति पर नाराजगी जताई थी. पहले खालसा स्टेडियम में ही यात्रा का विश्राम होना तय था, लेकिन विवाद के बाद छोड़ दिया गया जिसके बाद वैष्णव स्टेडियम फिर दशहरा मैदान और अंत में अब चिमनबाग मैदान तय किया गया है.


वहीं, कमिश्नर हरिनारायण चारी मिस द्वारा भारत जोड़ो यात्रा व राहुल गांधी की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. यात्रा में शामिल भीड़ को देखकर पर्याप्त बल लगाया जाएगा, ताकि उनको सुरक्षा दी जा सके. वहीं, राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के इंदौर में गुजरने के दौरान बम से उड़ाने की धमकी दी गई थी, जिसके चलते इंदौर पुलिस हर तरह से सतर्कता बरतने के बात कह रही है.

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.