Monday, 21 November 2022

Maharashtra: शिवाजी महाराज पर सीएम देवेंद्र फडणवीस ने किया राज्यपाल का बचाव, कहा - निकाला गया गलत मतलब


Maharashtra: महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी (Bhagat Singh Koshyari) और भारतीय जनता पार्टी (BJP) के प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी की छत्रपति शिवाजी महाराज को लेकर दिये गये बयान से उपजे विवाद के बीच डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) ने बचाव किया है. उन्होंने रविवार को कहा है कि जब तक सूरज और चंद्रमा का अस्तित्व रहेगा तब तक महान योद्धा शिवाजी राज्य और देश के नायक और आदर्श बने रहेंगे.


कोश्यारी ने औरंगाबाद में शनिवार को महाराष्ट्र में ‘आदर्श लोगों’ की बात करते हुए बी आर आंबेडकर और नितिन गडकरी का जिक्र किया और कहा कि छत्रपति शिवाजी महाराज ‘‘पुराने जमाने’’ के आदर्श थे. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) ने भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी पर यह दावा करने का आरोप लगाया है कि मराठा साम्राज्य के संस्थापक (शिवाजी महाराज) ने मुगल बादशाह औरंगजेब से पांच बार माफी मांगी.


राज्यपाल के बयान का निकाला गया गलत मतलब

पुणे में 71वीं अखिल भारतीय पुलिस कुश्ती क्लस्टर चैंपियनशिप के समापन समारोह में भाग ले रहे फडणवीस ने संवाददाताओं से कहा कि एक बात स्पष्ट है कि जब तक सूर्य और चंद्रमा का अस्तित्व रहेगा, छत्रपति शिवाजी महाराज महाराष्ट्र और हमारे देश के नायक और आदर्श बने रहेंगे. उन्होंने कहा कि यहां तक ​​​​कि राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के मन में भी इस बारे में कोई संदेह नहीं है. इस प्रकार, राज्यपाल द्वारा की गई टिप्पणी के विभिन्न अर्थ निकाले गए हैं.


बीजेपी प्रवक्ता सुधाशुं त्रिवेदी के बयान पर क्या बोले फणडवीस?

मुझे लगता है कि देश में शिवाजी महाराज के अलावा कोई अन्य आदर्श नहीं है. त्रिवेदी द्वारा दिए गए बयान पर सफाई देते हुए फडणवीस ने कहा कि मैंने सुधांशु त्रिवेदी द्वारा दिया गया बयान स्पष्ट रूप से सुना है. उन्होंने कभी ऐसा कोई बयान नहीं दिया कि शिवाजी महाराज ने माफी मांगी है.


राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के वरिष्ठ नेता अजित पवार ने कहा कि महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी अगर राज्य की भावनाओं और महान योद्धा छत्रपति शिवाजी महाराज को नहीं समझ सकते, तो उन्हें अपना पद छोड़ने पर विचार करना चाहिए. वहीं, शरद पवार के नेतृत्व वाली पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता क्लाइड क्रेस्टो ने मांग की थी कि बीजेपी त्रिवेदी को बर्खास्त करे. इस बीच, पुलिस कार्यक्रम के बारे में गृह विभाग के प्रमुख फडणवीस ने कहा कि पुलिस कर्मियों के लिए एक विशेष खेल परिसर और छात्रावास बनाया जाएगा और इस पर एक प्रस्ताव अंतिम चरण में है.


Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.