Friday, 25 November 2022

Maharashtra: 'बाप, बाप होता है', ताजा विवाद पर आखिर उद्धव ठाकरे ने ऐसा क्यों कहा?

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव (Uddhav Thackeray) ठाकरे ने छत्रपति शिवाजी महाराज (Chhatrapati Shivaji Maharaj) को लेकर दिए राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी (Bhagat Singh Koshyari) की कड़ी आलोचना की. उन्होंने आरोप लगाया कि राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने पहले मुंबई में मराठी लोगों का 'अपमान' किया था और अब उन्होंने शिवाजी महाराज पर बयान दिया. उन्होंने सवाल किया कि राज्यपाल कोश्यारी के इस बयान के पीछे आखिर किसका दिमाग है?  उन्होंने कहा कि 'बाप, बाप होता है. नया हो या पुराना.'


नई सरकार में महाराष्ट्र की अस्मिता से हो रहा खिलवाड़- उद्धव


गुरुवार (24 नवंबर) को प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान उद्धव ठाकरे ने कहा कि वे (राज्यपाल) महाराष्ट्र की अस्मिता से खिलवाड़ कर रहे हैं. शिवसेना नेता ने कहा कि जब से महाराष्ट्र में सरकार बदली है तब से राज्य का अपमान हो रहा है. कल कैबिनेट मीटिंग न होने पर ठाकरे ने कहा कि कैबिनेट मीटिंग का ना होना एक अपवाद है. उन्होंने कहा कि कैबिनेट की बैठक को इसलिए रद्द कर दिया गया क्योंकि सरकार के ज्यादातर लोग इस वक्त गुजरात में हैं. 


'राज्यपाल बनने के लिए होनी चाहिए पात्रता'


उद्धव ठाकरे ने कहा कि राज्यपाल कोश्यारी के बयान पर बीजेपी बहुत नरमी से पेश आ रही है. उन्होंने कहा कि यह लोकतंत्र पर हमला है. पूर्व मुख्यमंत्री ठाकरे ने कहा कि केंद्र सरकार राज्यपालों की नियुक्ती करती है, जो वृद्धाश्रम में रहने लायक नहीं उन्हें राज्यपाल बनाया जा रहा है. ठाकरे ने कहा कि राज्यपाल बनने के लिए भी कुछ पात्रता होनी चाहिए. जो सरकार में होते हैं वे राज्यपाल नियुक्त करते हैं. उन्होंने कहा कि मैंने कोश्यारी को राज्यपाल कहना बंद कर दिया है. 


Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.