Thursday, 24 November 2022

शिवसेना नाम और चिन्ह को लेकर संजय राउत ने लगाया चुनाव आयोग पर बड़ा आरोप


मुंबई: शिवसेना (Shivsena UT)  उद्धव गुट के नेता और सांसद संजय राउत (Sanjay Raut) ने एक बार फिर चुनाव आयोग पर निशाना साधा है. मीडिया से बात करते हुए गुरुवार को सांसद राउत ने कहा कि देश का चुनाव आयोग एक संवैधानिक संस्था है. इस संगठन के हाथ में देश का चुनाव और लोकतंत्र दोनों है. हालांकि अगर संवैधानिक संस्था अगर किसी के इशारों पर काम करती है या फिर शासकों के इशारे पर लोगों की नियुक्ति करती है. तो देश में लोकतंत्र सुरक्षित नहीं रह पाएगा.


उन्होंने आगे कहा चुनाव आयोग के हाथ में देश का लोकतंत्र है और ऐसी संस्था किसी की गुलाम बनकर काम करे और उनके (सरकार) मनमर्जी की नियुक्ति हो तो इस देश में लोकतंत्र नहीं होगा। ऐसा क्यों है कि कोई भी चुनाव आयुक्त अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर पा रहा है.


चुनाव आयुक्त को लेकर उन्होंने कहा कि देश को टीएन शेषन के बाद उनके जैसा चुनाव आयुक्त अभी तक नहीं मिला है. इस वजह से रिटायर्ड होने के बाद जब टीएन शेषन ने राष्ट्रपति का चुनाव लड़ा तो शिवसेना ने उन्हें मतदान दिया था. देश को टीएन शेषन जैसा ही तटस्थ चुनाव आयुक्त की जरूरत है, जिससे देश में लोकशाही जीवित रह सके.

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.