Thursday, 3 November 2022

पहले बिंदी लगाओ फिर बात करेंगे, महिला पत्रकार के साथ संभाजी भिड़े का अजीब बर्ताव


मुंबई: महाराष्ट्र के हिंदुत्ववादी नेता संभाजी भिड़े (Sambhaji Bhide) को राज्य महिला आयोग ने नोटिस जारी किया है। यह नोटिस संभाजी भिड़े के उस वक्तव्य के बाद जारी किया गया है। जिसमें उन्होंने एक महिला पत्रकार के साथ बातचीत करने से सिर्फ इसलिए इनकार कर दिया क्योंकि उसने बिंदी नहीं लगाई थी। एक महिला पत्रकार के साथ इस तरह का अजीबोगरीब बर्ताव करने की वजह से महाराष्ट्र में एक नया विवाद खड़ा हो चुका है। यह घटना उस समय की है जब मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे संभाजी भिड़े से मुलाकात कर बाहर निकले थे। इसी दौरान महिला पत्रकार ने भिड़े से बातचीत करने की कोशिश की थी। यह पूरा वाकया कैमरे में कैद हो चुका है। वीडियो में साफ सुना जा सकता है कि महिला पत्रकार के सवालों का जवाब देने के पहले संभाजी भिड़े उससे बिंदी लगाने का के लिए कहते हैं। संभाजी भिड़े वीडियो में यह भी कहते हुए नजर आ रहे हैं कि महिला पत्रकार को उनके बाइट लेने के पहले बिंदी लगानी चाहिए। ऐसा नहीं करने पर उन्होंने पत्रकार से बात करने से इनकार भी कर दिया।


क्या था मामला

महिला पत्रकार ने अपने साथ हुई यह घटना सोशल मीडिया पर भी शेयर की है उनके मुताबिक जब संभाजी भिड़े से उन्होंने मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे से हुई मुलाकात के बारे में पूछने का प्रयास किया तब लेने पत्रकार को पहले हिंदी लगाकर आने के लिए कहा और जवाब देने से इनकार कर दिया।


भारत माता कभी विधवा नहीं होती

संभाजी भिड़े ने अपनी इस बात के पीछे यह तर्क दिया कि हर महिला भारत माता की तरह होती है और भारत माता कभी विधवा नहीं हो सकती। इसलिए हर महिला को बिंदी लगानी चाहिए। हालांकि, इस बात पर महिला पत्रकार ने ऐतराज जताते हुए सोशल मीडिया पर यह लिखा है कि बिंदी लगाना या न लगाना यह मेरा निजी अधिकार है और इसका हनन किया जाना या जबरदस्ती करना पूरी तरह से गलत है।

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.