Thursday, 3 November 2022

भीख मांगने के लिए चुराई गई एक साल की बच्ची को मुंबई पुलिस ने 48 घंटे में कैसे ढूंढा

मुंबई पुलिस ने 48 घंटे के भीतर एक साल की बच्ची की चोरी की वारदात को सुलझा दिया. मुंबई पुलिस आयुक्त विवेक फंसलकर ने बताया कि मामले में बच्ची को सुरक्षित छुड़ा लिया गया है और दो महिलाओं को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस के मुताबिक प्राथमिक जांच में पता चला है कि बच्ची को भीख मांगने के लिए चुराया गया था. हालांकि, इस गिरोह की तीसरी कड़ी की अभी तलाश है, जिस तक दोनों महिलाएं उस बच्ची को पहुंचाने वाली थीं.


मुंबई पुलिस ने एक सप्ताह में बच्चा चोरी की ये दूसरी वारदात को सुलझाया है. पुलिस के मुताबिक, 30 अक्टूबर की रात को फुटपाथ पर रहने वाली एक महिला की एक साल की बच्ची चोरी कर ली गई. सांताक्रुज पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज करने के साथ मुंबई क्राइम ब्रांच यूनिट 9 को भी जांच की जिम्मेदारी दी गई.


क्राइम ब्रांच डीसीपी संग्राम सिंह निशानदार के मुताबिक, यूनिट 9 ने 100 से ज्यादा सीसीटीवी खंगालकर आरोपी महिला का फोटो निकाला और फिर आसपास की बस्ती में उस फोटो की पहचान करनी शुरू की. तभी पता चला कि आरोपी महिला शरीफा शेख के बारे में पता चला. विलेपार्ले की नेहरूनगर में रहने वाली शरीफा की जानकारी निकालकर पुलिस ने उसका लोकेशन ट्रेस किया और फिर आरपीएफ की मदद से सोलापुर स्टेशन पर उसे दबोच लिया.


शरीफा के साथ पुलिस ने सुजाता पासवान नाम की एक महिला को भी गिरफ्तार किया है, जो इस वारदात में शामिल थी. पीड़ित मां अपनी छोटी बच्ची के मिलने से खुश है. पीड़ित मां ने बताया कि मुझे यकीन नहीं था कि बच्ची मिलेगी, लेकिन पुलिस ने मेरी बच्ची को खोज निकाला और पुलिस में मेरा भरोसा बढ़ गया है.

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.