Tuesday, 22 November 2022

मुंबई में पत्नी की हत्या कर ट्रेन से भाग रहे हत्यारोपी पति को आरपीएफ ने पकड़ा

मुंबई के पेलहार में पत्नी की हत्या कर ट्रेन से जा रहे हत्यारोपी पति को ललितपुर आरपीएफ ने झांसी मंडल के खरगापुर रेलवे स्टेशन पर पकड़ लिया। आरपीएफ ने आरोपी को मुंबई क्राइम ब्रांच को सौंप दिया।


जनपद भदोही निवासी 32 वर्षीय राजेश विश्वकर्मा मुुंबई मेें एक कंपनी में काम करता था। मुंबई में उसने दूसरी शादी कर ली। बीते 19-20 नवंबर की रात में उसने मुंबई के पेलहार स्थित आवास में पत्नी की हत्या कर दी। पत्नी की हत्या के बाद वह 20 नवंबर को कल्याण स्टेशन पहुंचा और बनारस जाने का टिकट खरीद कर लोकमान्य तिलक-गोरखपुर एक्सप्रेस से रवाना हो गया।


उधर, मुंबई के थाना पेलहार में पत्नी की हत्या में उसके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई। इसके बाद मुंबई क्राइम ब्रांच ने आरोपी को पकड़ने के लिए प्रयास शुरू कर दिए। मुंबई पुलिस को सूचना मिली कि आरोपी ट्रेन से वाराणसी के लिए रवाना हो गया है। पुलिस ने उसकी जानकारी और फोटो के साथ झांसी कंट्रोल रूम को सूचना दी। सूचना मिलते ही रेलवे अफसरों ने ट्रेन की लोकेशन ट्रेस की तो पता चला कि ट्रेन ललितपुर से निकल चुकी है।


इसके बाद आरपीएफ ने टीकमगढ़ आरपीएफ पोस्ट को आरोपी राजेश विश्वकर्मा के बारे में सूचना दी। ट्रेन के टीकमगढ़ पहुंचने पर आरपीएफ कर्मी पीके सोनी और एसके शर्मा ट्रेन में सवार हो गए और अनारक्षित कोच में आरोपी की तलाश शुरू कर दी। एक अनारक्षित कोच में आरोपी की शिनाख्त फोटो के जरिए की गई, लेकिन उसे चलती ट्रेन में नहीं पकड़ा गया।


ट्रेन जैसे ही खरगापुर स्टेशन पर पहुंची तो आरोपी उतरकर भागने लगा। जिस पर आरपीएफ कर्मियों ने उस पकड़ लिया। निजी वाहन से उसे ललितपुर लाया गया। इसके बाद मुंबई क्राइम ब्रांच और रेलवे अफसरों को मामले की जानकारी दी गई। सोमवार को आरोपी को ललितपुर पहुंची मुंबई क्राइम ब्रांच की टीम के सुपुर्द कर दिया गया।


ऐसे हुई पहचान

हत्यारोपी की मां का कुछ दिन पहले ही देहांत हो गया था। जिसके चलते उसने बाल कटवाए थे। मुंबई क्राइम ब्रांच ने उसकी फोटो आरपीएफ को भेजकर बाल मुंडवाने की बात बताई थी। आरपीएफ कर्मचारी ट्रेन के जनरल कोच में सादा कपड़ों में चढ़े तो हत्यारोपी की फोटो से मिलान किया गया और उसके बाल नहीं होने पर आसानी से पहचान लिया।


ट्रेन में हत्यारोपी के होने की सूचना पर टीकमगढ़ के स्टाफ को सूचना दी और खरगापुर में उसे गिरफ्तार कर लिया गया।


Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.