Thursday, 3 November 2022

Maharashtra : अमृता फडणवीस ने ट्रैफिक क्लियरेंस वाहन लेने से किया इनकार, सुरक्षा को लेकर कही ये बड़ी बात


Maharashtra: महाराष्ट्र क उप-मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस ने मुंबई पुलिस से ट्रैफिक क्लियरेंस वाहन वापस लेने की अपील की है. बताया गया कि राज्य का खुफिया विभाग जो महाराष्ट्र के गृह विभाग को रिपोर्ट करता है, ने अमृता फडणवीस को ट्रैफिक क्लीयरेंस वाहन आवंटित किया है और उनकी सुरक्षा एक्स से वाई प्लस श्रेणी में बदल दी है.


'आम नागरिक की तरह रहना चाहती हूं'


इस खबर के सामने आने के बाद अमृता ने बुधवार को ट्वीट करते हुए कहा,  'मैं मुंबई के एक आम नागरिक की तरह रहना चाहती हूं. मैं मुंबई पुलिस से विनम्रतापूर्वक अनुरोध करती हूं कि वो मुझे ट्रैफिक क्लियरेंस पायलट वाहन प्रदान न करें. मुंबई में यातायात की स्थिति निराशाजनक है. लेकिन मुझे यकीन है कि मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस द्वारा चलाई जा रही विकास परियोजनाओं से हमें जल्द ही राहत मिलेगी.’


अमृता ने अभी तक नहीं किया एस्कॉर्ट वाहन का उपयोग


बता दें कि अमृता फडणवीस को मिल रहीं धमकियों का आकलन करने के बाद खुफिया विभाग ने उनकी सुरक्षा एक्स से वाई प्लस श्रेणी की कर दी है. इसके अलावा उन्हें एस्कॉर्ट वाहन भी दिया गया है, जिसका इस्तेमाल ट्रैफिक क्लियरेंस के लिए किया जाता है. हालांकि अमृता फडणवीस ने अब इसको लेने से इंकार किया है. वाई प्लस सिक्योरिटी मिलने के बाद अमृता की सुरक्षा में 5 पुलिसकर्मी हमेशा तैनात रहेंगे.  ट्रैफिक क्लियरेंस वाहन को लेकर पुलिस सूत्रों ने कहा कि  मुंबई पुलिस के सुरक्षा और सुरक्षा विभाग ने यातायात अधिकारियों को आवश्यक निर्देश भेजे हैं, अमृता फडणवीस ने अभी तक नए ट्रैफिक क्लियरेंस वाहन का उपयोग नहीं किया है.


 पत्नी ने नहीं किया था  ट्रैफिक क्लियरेंस वाहन के लिए आवेदन


वहीं पत्नी की सिक्योरिटी अपग्रेड करने को लेकर फडणवीस ने कहा था कि अमृता फडणवीस ने किसी भी सुरक्षा अपग्रेड के लिए आवेदन नहीं दिया था. खतरे की आशंका के आधार पर हाई पावर कमेटी ने सुरक्षा दी है. ट्रैफिक क्लियरेंस वाहन के लिए भी आवेदन नहीं किया गया है. अमृता ने विशेष रूप से पुलिस को बताया है कि उसकी आवश्यकता नहीं है.' उन्होंने आगे कहा कि ट्रैफिक क्लीयरेंस वाहन अतीत में पूरे ठाकरे परिवार व अन्य व्यक्तियों को भी मिलता रहा है. यह किसी पद की वजह से नहीं बल्कि सुरक्षा कारणों की वजह से है.

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.