Monday, 17 October 2022

मुंबई की अंधेरी ईस्ट उपचुनाव में BJP ने क्यों वापस लिया अपना उम्मीदवार?


मुंबई की अंधेरी ईस्ट विधानसभा उपचुनाव (Andheri East Assembly bypoll) के नामांकन वापस लेने की समय सीमा समाप्त होने के कुछ घंटे पहले बीजेपी (BJP) ने अपने उम्मीदवार मुर्जी पटेल (Murji Patel) का नाम वापस ले लिया.  महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) के नेता राज ठाकरे ने उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को पत्र लिखकर सत्ताधारी दल को आग्रह को किया था कि वह अपने उम्मीदवार को इस उपचुनाव में न उतारें. 


बीजेपी के मुर्जी पटेल ने सोमवार को अपना नामांकन पत्र वापस ले लिया. अब पटेल के हटने के साथ 3 नवंबर को होने वाले उपचुनाव में उनकी जीत महज औपचारिकता है. वहीं बीजेपी की इसघोषणा पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए रुतुजा लटके ने कहा कि वह उन सभी की ऋणी हैं जिन्होंने इस चुनाव को निर्विरोध लड़ाई बनाने के लिए काम किया. रुतुजा लटके ने कहा कि राज ठाकरे, शरद पवार और मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाले शिवसेना गुट के प्रताप सरनाइक जैसे कई नेताओं ने बीजेपी से अपना नामांकन वापस लेने की अपील की. मैं उनको धन्यवाद करती हूँ और आगे की कार्रवाई के लिए मैं अपने नेता उद्धव ठाकरे से मिलूंगी.


बीजेपी नेता मुर्जी पटेल को उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाले शिवसेना गुट की उम्मीदवार रुतुजा लटके के खिलाफ खड़ा किया गया था. इस सीट पर शिवसेना के विधायक राकेश लटके ने जीत दर्ज की थी, हालांकि इस साल मई में उनकी मौत हो गई जिसके कारण उपचुनाव होना है. राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी (NCP) प्रमुख शरद पवार ने भी सभी दलों से यह सुनिश्चित करने की अपील की थी कि रुतुजा लटके को निर्विरोध चुना जाए. 


शरद पवार ने रविवार को रुतुजा लटके के निर्विरोध चुनाव की मांग की थी, जबकि राज ठाकरे ने डिप्टी सीएम फडणवीस से दिवंगत रमेश लटके के प्रति श्रद्धा दिखाने के लिए बीजेपी के उम्मीदवार को मैदान में नहीं उतारने की अपील की थी. अब महाराष्ट्र बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रशेखर बावनकुले ने नागपुर में मीडिा से बीजेपी ने अंधेरी ईस्ट उपचुनाव नहीं लड़ने का फैसला किया है, अन्यथा हम चुनाव जीत सकते थे.


Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.