Thursday, 13 October 2022

Maharashtra : उद्धव गुट को राहत, हाई कोर्ट ने BMC से ऋतुजा का इस्तीफा मंजूरी पत्र देने को कहा


मुंबई: महाराष्ट्र में बांबे हाई कोर्ट (Bombay High Court) ने वीवार को बीएमसी (BMC) से शिवसेना (Shivsena) की उम्मीदवार ऋतुजा लटके (Rutuja Latke) का इस्तीफा स्वीकार करने को कहा है। ऋतुजा मुंबई के अंधेरी पूर्व विधानसभा उपचुनाव के लिए उद्धव बाला साहब ठाकरे की पार्टी की उम्मीदवार हैं।


उपचुनाव के लिए शुक्रवार को होगा नामंकन

प्रेट्र के मुताबिक, न्यायमूर्ति नितिन जामदार और न्यायमूर्ति शर्मिला देशमुख की खंडपीठ ने कहा कि बृहन्मुंबई नगर निगम (BMC) आयुक्त द्वारा इस मामले में इस्तीफे पर निर्णय लेने में विवेक का इस्तेमाल या गैर-उपयोग मनमाना था। पीठ ने बीएमसी के सक्षम अधिकारी को शुक्रवार सुबह 11 बजे तक इस्तीफा स्वीकार करने और उचित पत्र जारी करने का निर्देश दिया। इससे शुक्रवार को होने वाले उपचुनाव के लिए अपना नामांकन दाखिल करने का रास्ता साफ हो जाएगा। अदालत ने कहा कि वह ऋतुजा आपकी (बीएमसी) कर्मचारी हैं। आपको उनकी मदद करनी चाहिए। इससे पहले दिन में ऋतुजा के वकील विश्वजीत सावंत ने अदालत को बताया था कि वह एक क्लर्क हैं और उनका कोई बकाया या पूछताछ नहीं है।


तीन नवंबर को होगा उपचुनाव

तीन नवंबर को होने वाले उपचुनाव (Bypoll) के लिए नामांकन पत्र दाखिल करने की आखिरी तारीख 14 अक्टूबर है। ऋतुजा के पति और मौजूदा विधायक रमेश लटके के निधन के कारण उपचुनाव कराना पड़ा। उद्धव ठाकरे गुट ने बुधवार को आरोप लगाया था कि ऋतुजा लटके पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाला समूह उनके टिकट पर चुनाव लड़ने के लिए दबाव बना रहा था। ठाकरे गुट ने मुंबई नगर निकाय पर उपचुनाव के लिए उसकी उम्मीदवारी को रोकने के लिए उसके कर्मचारी के रूप में उसके इस्तीफे में देरी करने के लिए राजनीतिक दबाव का भी आरोप लगाया। हालांकि, बीएमसी कमिश्नर आईएस चहल ने किसी राजनीतिक दबाव से इनकार किया था।

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.