Wednesday, 19 October 2022

Maharashtra: नाना पटोले बोले- 'राहुल गांधी और भगवान राम के नाम की शुरुआत R से होती है, यह एक संयोग'


Maharashtra: राजस्थान के मंत्री परसादी लाल मीणा (Parsadi Lal Meena) द्वारा राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की भारत जोड़ो यात्रा (Bharat Jodo Yatra) की तुलना भगवान राम की अयोध्या से श्रीलंका तक की पैदल यात्रा से करने के बाद अब  महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष नाना पटोले (Nana Patole) का बयान आया है. उन्होंने कहा कि यह संयोग ही है कि राहुल गांधी और राम के नाम के शुरुआत में 'आर' शब्द की समानता है. 


परसादी लाल मीणा के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए नाना पटोले ने कहा कि यह एक संयोग ही है कि राहुल गांधी और राम का नाम 'आर' से शुरू होता है, लेकिन हम उनकी तुलना भगवान राम से नहीं कर रहे हैं जैसे की बीजेपी अपने नेताओं की तुलना भगवान से करती है. भगवान भगवान हैं और राहुल गांधी इंसान हैं और वह मानवता के लिए काम कर रहे हैं, जिसे हर कोई देख रहा है.


आंध्र प्रदेश पहुंची राहुल की भारत जोड़ो यात्रा


बता दें कि अपनी भारत जोड़ो यात्रा के तहत राहुल गांधी  मंगलवार सुबह आंध्र प्रदेश पहुंचे. यह यात्रा 150 दिन चलेगी. यात्रा के 41वें दिन राहुल गांधी ने कुरनूल के हलहरवी बस स्टॉप से फिर से मार्च शुरू किया. मालूम हो कि भारत जोड़ो यात्रा के 7 नवंबर को महाराष्ट्र से गुजरने की संभावना है जिसकी तैयारियों को लेकर नाना पटोले ने आज पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की.


वहीं पटोले ने क्रिकेट निकाय चुनावों में मुंबई बीजेपी अध्यक्ष आशीष शेलार का समर्थन करने के लिए  शरद पवार पर जोरदार तंज कसा. उन्होंने कहा कि बीजेपी अच्छी तरह जानती है कि वह किसके साथ रहना चाहती है, क्रिकेट संघ में भी चुनाव हो रहे हैं और ऐसे में सभी एक साथ आकर एक अलग संदेश दे रहे हैं. इसलिए हमने अपना विचार व्यक्त किया है कि खेल के मैदान से लेकर अन्य क्षेत्रों तक के विचारों में कितना अंतर है. उन्होंने कहा कि हर कोई इस बात का अंदाजा लगा सकता है कि एमसीए और बीसीसीआई के चुनावों में क्या चल रहा है.


उम्मीदवारी वापस लेने के लिए बीजेपी का किया स्वागत


हालांकि उन्होंने अंधेरी पूर्व विधानसभा उपचुनाव में बीजेपी द्वारा उद्धव ठाकरे गुट के शिवसेना उम्मीदवार के लिए अपने उम्मीदवार का नाम वापस लिए जाने का स्वागत किया. उन्होंने कहा कि हम इस चुनाव में शिवसेना उम्मीदवार को निर्विरोध जिताने का स्वागत करते हैं. वर्तमान राजनीति में लोगों की भावनाओं का सम्मान करना चाहिए और यह परंपरा जीवित रहनी चाहिए. गौरतलब है कि बीजेपी ने इस उपचुनाव में अपने उम्मीदवार मुर्जी पटेल का नाम वापस ले लिया था जिसके चलते शिवसेना उम्मीदवार रुतुजा लटके को इस चुनाव में निर्विरोध जीत मिली.

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.