Thursday, 20 October 2022

KDMC कमिश्नर ने रात में किया सफाई और सड़कों का निरीक्षण, अधिकारियों को दिए ये निर्देश


कल्याण: कल्याण-डोंबिवली महानगरपालिका कमिश्नर डॉ. भाऊसाहेब दांगड़े (KDMC Commissioner Dr. Bhausaheb Dangde) ने दिवाली (Diwali ) से पहले सभी क्षेत्रों को साफ रखने के लिए 24 घंटे ऑन-फील्ड कार्य करने के निर्देश दिए हैं।  भाऊसाहेब डांगडे ने सभी संबंधित अधिकारियों को पहले ही यह निर्देश दे दिया था, इसी पृष्ठभूमि में मंगलवार की देर रात अचानक कमिश्नर डॉ. डांगडे ने पुना लिंक रोड, कल्याण पूर्व क्षेत्र में 90 फीट सड़क, डोंबिवली के मोठे गांव, ठाकुरली, डोंबिवली स्टेशन क्षेत्र, कल्याण पश्चिम में सहजानंद क्षेत्र का निरीक्षण किया।  क्षेत्र की बदहाली को देखते हुए संबंधित वार्ड क्षेत्र के अधिकारियों को हर जगह साफ-सफाई बनाए रखने और समय पर कूड़ा (Garbage) उठाने की हिदायत दी गई है।


इस निरीक्षण दौरे के दौरान आयुक्त डॉ. डांगडे ने डोंबिवली में नेहरू रोड, कल्याण पूर्व के वाल्धूनी क्षेत्र में गड्ढे भरने के कार्य का निरीक्षण किया और इस संबंध में उपस्थित अधिकारियों को निर्देश दिया। इस अवसर पर शहर अभियंता अर्जुन अहिरे, महानगरपालिका सचिव और विभाग अध्यक्ष (सूचना एवं जनसंपर्क) संजय जाधव, ठोस अपशिष्ट प्रबंधन विभाग के उपायुक्त अतुल पाटिल, उप मुख्य स्वच्छता अधिकारी घुटे, कार्यकारी अभियंता जगदीश कोरे, सहायक आयुक्त दिनेश वाघचौरे सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे। 


कमिश्नर ने की लोगों से यह अपील

दिवाली से पहले कल्याण-डोंबिवली शहर को साफ रखने के लिए गड्ढों की मरम्मत करने और कचरे को उठाने की कोशिश कर रहा है। नागरिकों, होटल व्यवसायियों, दुकानदारों को भी महानगरपालिका का सहयोग करना चाहिए कि वह अपना कचरा सड़क या अन्य जगहों पर फेंकने के बजाय महानगरपालिका की घंटागाड़ी में डालकर शहर की बदहाली को रोकें।  ऐसी अपील दौरे के दौरान भाऊसाहेब डांगडे ने की और काम का निरीक्षण किया।


… तो संबंधित संभाग क्षेत्र अधिकारी के खिलाफ होगी कार्रवाई

उन्होंने कहा कि कल्याण-डोंबिवली रेलवे स्टेशन के पास 150 मी. क्षेत्र में फेरी वाले नहीं बैठें, डांगडे ने चेतावनी दी कि यदि इस स्थान पर फेरीवाले पाए जाते हैं तो संबंधित संभाग क्षेत्र अधिकारी, प्रमुख  निरीक्षक के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। यह देखा गया है कि कुछ स्थानों के लोग मुख्य रूप से झुग्गी-झोपड़ी क्षेत्रों में कचरा बाहर फेंक रहे हैं जहां महानगरपालिका के वाहन नहीं पहुंचते हैं।  इसलिए महानगरपालिका द्वारा इस कचरे को रात में इकट्ठा करने की व्यवस्था की जा रही है, ताकि उक्त कचरे को सुबह आगे की प्रक्रिया के लिए भेजा जा सके।

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.