Sunday, 23 October 2022

अरूणाचल हेलीकॉप्टर क्रैश में राजस्थान के तीन जवान शहीद, आज शाम पहुंचेगें पार्थिव शरीर

अरुणाचल प्रदेश  के ऊपरी जिले सियांग के सिंगिंग गांव के पास 21 अक्टूबर को भारतीय सेना का एचएएल रुद्र हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया था. दुर्घटना के दौरान हेलिकॉप्टर में सवार चार सैनिक शहीद हो गए थे. इस हादसे में राजस्थान के तीन जवान शहीद हो गए. जिसमें हेलीकॉप्टर के पायलट मेजर विकास भांबू सूरतगढ़, मेजर मुस्तफा बोहरा उदयपुर और नायक रोहिताश्व झूंझुनू जिले के रहने वाले थे. अब तीनों शहीदों के पार्थिव शरीर राजस्थान लाए जा रहे हैं.


मेजर विकास भांबू का पार्थिव शरीर आज शाम यानी रविवार की 4.45 बजे सूरतगढ़ पहुंचेगा. नायक रोहिताश्व कुमार का पार्शिव शरीर शाम 5 बजे झूंझुनू और मेजर मुस्तफा बोहरा शव 7.30 बजे उदयपुर पहुंचेगा. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट करके तीनों जवानों की शहादत को नमन किया है. सीएम गहलोत ने कहा, "संकट की इस घड़ी में शोक संतप्त परिवार को ईश्वर शक्ति प्रदान करे. दुख की इस घड़ी में सरकार उनके साथ है. मैं जवानों की बहादुरी को सलाम करता हूं." 


दुर्घटनास्थल सड़क मार्ग से नहीं जुड़ाो

अरुणाचल प्रदेश में हुए दुर्घटनाग्रस्त हेलिकॉप्टर में पांच लोग सवार थे. जिसमें दो पायलट और तीन अन्य लोग सवार थे. यह हादसा तूतिंग मुख्यालय से करीब 25 किलोमीटर दूर हुआ. दुर्घटनास्थल सड़क मार्ग से नहीं जुड़ा है, जिससे बचाव दल के लिए खोज और बचाव कार्य करना मुश्किल का सामना करना पड़ा.


भारतीय सेना ने क्या कहा?

भारतीय सेना के मुताबिक, आर्मी एविएशन कोर का एक ALH-WSI हेलिकॉप्टर 21 अक्टूबर की सुबह 10.43 बजे अरुणाचल प्रदेश के मिगिंग में क्रैश हो गया. मिगिंग अरुणाचल प्रदेश के अपर सियांग जिले का बेहद ही दूर-दराज का इलाका है, जो तूतिंग के दक्षिण में मौजूद है. इस हेलिकॉप्टर ने असम के लेकाबली मिलिट्री स्टेशन से एक रूटीन-सोर्टी के लिए उड़ान भरी थी. 


Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.