Sunday, 23 October 2022

Maharashtra: मराठी मुस्लिम सेवा संघ के सदस्यों ने की उद्धव ठाकरे से मुलाकात, निकाय चुनाव में देंगे समर्थन

Maharashtra: महाराष्ट्र (Maharashtra) में आगामी निकाय चुनावों से पहले मराठी मुस्लिम सेवा संघ (MMSS) ने शुक्रवार को पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) को अपना समर्थन दिया. प्रमुख मराठी मुसलमानों और गैर सरकारी संगठनों के एक प्रतिनिधिमंडल ने ठाकरे से मुलाकात की और शिवसेना-उद्धव बालासाहेब ठाकरे (Shiv Sena-Uddhav Balasaheb Thackeray) को अपना समर्थन दिया. प्रतिनिधिमंडल में एमएमएसएस अध्यक्ष फकीर एम ठाकुर, नूरुद्दीन नाइक, इस्माइल समदुले, डॉ ए.आर.खान, कैप्टन अकबर खल्फे और राज्य भर से अन्य प्रमुख सदस्य मौजूद रहे.


इस मौके पर फकीर एम ठाकुर ने कहा कि जिस तरह से उद्धव ठाकरे को जून में सीएम के रूप में बाहर करने के लिए मजबूर किया गया था और दिवंगत बालासाहेब ठाकरे की शिक्षाओं को नष्ट करने के लिए स्वार्थी विद्रोही नेताओं के समूह की ओर से किए गए प्रयासों पर हमने गहरा दुख व्यक्त किया. उन्होंने कहा कि अपने सभी सदस्यों और अन्य संबद्ध संगठनों के बीच विचार-विमर्श करने के बाद एमएमएसएस ने राज्य के गौरव, एकता, विकास और प्रगति की राजनीति के हित में ठाकरे की सभी पहलों के लिए बिना शर्त समर्थन देने का फैसला किया.


एमएमएसएस के बैनर तले हैं लगभग 80 बड़े और छोटे एनजीओ

उद्धव ठाकरे ने एमएमएसएस प्रतिनिधिमंडल का गर्मजोशी से स्वागत किया. साथ ही उनके साथ बातचीत की और समर्थन के लिए आभार व्यक्त किया. फकीर एम ठाकुर के मुताबिक एमएमएसएस नेताओं ने यह भी कहा कि उन्हें विश्वास है कि आगामी निकाय चुनावों में लोग राज्य और देश में चल रही सांप्रदायिक राजनीति को हराने के लिए शिवसेना-यूबीटी और उसके सहयोगियों को अपना पूरा समर्थन देंगे. 2014 में स्थापित एमएमएसएस के बैनर तले लगभग 80 बड़े और छोटे एनजीओ हैं, जिनमें कई सामाजिक-सांस्कृतिक-शैक्षिक पहल हैं, जिसमें मुंबई, कोंकण, पश्चिमी और उत्तरी महाराष्ट्र, मराठवाड़ा, विदर्भ और प्रमुख शहर में महिलाओं और युवाओं सहित अल्पसंख्यक समुदाय के हजारों सदस्य शामिल हैं.

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.