Tuesday, 18 October 2022

Maharashtra : BJP ने 397 सीटों पर किया जीत का दावा, ट्वीट कर दी कार्यकर्ताओं को बधाई


Maharashtra : महाराष्ट्र में हुए ग्राम पंचायत चुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी (BJP) एक बड़ा दावा कर रही है. बीजेपी ने सोमवार को दावा किया है कि इस चुनाव में पार्टी ने अधिकतम 397 सीटों पर कमल खिलाया है. आपको बता दें, बीते रविवार 1,079 ग्राम पंचायतों के लिए हुए चुनाव के नतीजों की घोषणा सोमवार को की गई. बीजेपी की महाराष्ट्र यूनिट ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट में लिखकर कहा, 'भाजपा 397 सीट जीतकर ग्राम पंचायत चुनावों में पहले नंबर की पार्टी बन गई है. मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे की अगुवाई वाली 'बालासाहेबांची शिवसेना' के साथ संयुक्त आंकड़ा 478 पर पहुंच गया है.'


बीते दिन देवेंद्र फडनवीस ने ट्वीट कर लिखा, 'बीजेपी करीब 397 सीटें जीतकर नंबर 1 पार्टी बन गई, जबकि बीजेपी और मुख्यमंत्री एकनाथराव शिंदे की 'बालासाहेबची शिवसेना' ने मिलकर 478 सीटें जीतीं. दिन-रात मेहनत करने वाले दोनों दलों के सभी विजयी उम्मीदवारों, कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों को हार्दिक बधाई!'


किस पार्टी को मिलीं कितनी सीटें

जानकारी के लिए बता दें कि बीजेपी 235 गांव में सरपंच का पद जीतने में कामयाब हुई. वहीं, कांग्रेस ने 134, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने 110, शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) ने 128 और बालासाहेबंची शिवसेना ने 114 सीटों पर जीत हासिल की है. इसके अलावा, 300 निर्दलीय वीजयी हुए हैं. 


महाराष्ट्र के सीएम एकनाथ शिंदे ने कहा कि वोटर्स ने 'बालासाहेबांची शिवसेना' के समर्थन में अपना फैसला लिया है. मुख्यमंत्री ने कहा कि उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली शिवसेना से अलग होने का कदम सही साबित हुआ. शिंदे ने कहा कि जनता ने विश्वास के साथ वोट किया और यह लोगों का भरोसा नतीजों में साफ दिख रहा है.


नागपुर जिला परिषद अध्यक्ष बनीं कांग्रेस उम्मीदवार

बता दें, कांग्रेस कैंडिडेट मुक्ता कोकर्डे को बीते सोमवार नागपुर जिला परिषद का अध्यक्ष और कुंडा राउत को उपाध्यक्ष बनाया गया. इनका इलेक्शन जिला परिषद सदस्यों की विशेष आम सभा बैठक में हुआ. कांग्रेस की नागपुर जिला परिषद अध्यक्ष रश्मि बर्वे ने 5 साल के कार्यकाल में ढाई साल पूरे किए हैं. बीजेपी ने नागपुर जिला परिषद पद के लिए कांग्रेस के बागी प्रीतम कावरे और उपाध्यक्ष के रूप में नाना कंभाले को सपोर्ट किया था. 

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.