Wednesday, 12 October 2022

Maharashtra: बालासाहेब की तरह राज ठाकरे के पास होगा सत्ता का रिमोट कंट्रोल, मनसे ने किया बड़ा दावा


महाराष्ट्र में जारी सत्ता संघर्ष को लेकर मनसे (महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना) अध्यक्ष राज ठाकरे ने उद्धव ठाकरे पर निशाना साधा है। राज ठाकरे ने मुंबई में आयोजित पदाधिकारियों की बैठक को संबोधित करते हुए सूबे के राजनीतिक घटनाक्रम पर टिप्पणी की है। साथ ही मनसे महासचिव संदीप देशपांडे ने बताया कि मनसे (MNS) अपने दम पर आगामी नगर निगम चुनाव लड़ने वाली है।


मनसे नेता संदीप देशपांडे ने कहा, ''बैठक में राज ठाकरे ने नगर निगम चुनावों में कैसे लड़ा, इस पर मार्गदर्शन दिया। राज ठाकरे ने सभी नगर पालिकाओं की सभी सीटों पर चुनाव लड़ने के निर्देश दिए हैं। साथ ही उन्होंने रणनीति भी बताई है।"


देशपांडे ने बताया कि मनसे सभी नगर पालिकाओं में सभी सीटों पर अकेले चुनाव लड़ने वाली है। मनसे नेता ने कहा “राज ठाकरे ने पदाधिकारियों से कहा कि वें आपनी सोच सकारात्मक रखें। आज झूठा प्रचार करके लोगों की सहानुभूति लेने की कोशिश हो रही है। हम रोयेंगे तो वोट मिलेगा, ऐसे झूठे प्रचार करने के चक्कर में मत रहिये। सहानुभूति की ऐसी कोई लहर नहीं है।“


संदीप देशपांडे ने बताया कि राज ठाकरे ने कहा कि "अपने विचार सकारात्मक रखें, मैं आपको सत्ता में लाने के लिए काम करूंगा। सत्ता में लाने का काम यानी आपको सत्ता की कुर्सी पर बिठाऊंगा। उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि वह खुद पद नहीं लेंगे। लोग मनसे के बारे में सकारात्मक हैं, आपको भी सकारात्मक होना चाहिए।“


उन्होंने बताया कि राज ठाकरे ने बैठक में कहा कि हम सत्ता में आएंगे और आपको उस कुर्सी पर बैठना होगा। बालासाहेब ने खुद कभी कोई पद नहीं लिया और राज ठाकरे का भी यही सिद्धांत है। देशपांडे ने स्पष्ट किया कि मनसे के सत्ता में आने के बाद सत्ता का रिमोट कंट्रोल राज ठाकरे के पास होगा जैसे बालासाहेब के पास था।


संदीप देशपांडे ने जानकारी दी कि राज ठाकरे ने कहा “बालासाहेब द्वारा शिवसेना की स्थापना के बाद उन्हें केवल सफलता नहीं मिली, उन्हें भी हार देखनी पड़ी। लेकिन वह हार के कारण कभी नहीं रोये थे। हमने भी जीत-हार देखी। लेकिन हम रोए नहीं, हम ने लड़ाई जारी रखी। राज ठाकरे ने विश्वास जताया कि आने वाले चुनावों में मनसे सबसे बड़ी जीत दर्ज करेगी।”


Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.