Thursday, 1 September 2022

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 15 सितंबर को FSDC की बैठक में होंगी शामिल, अर्थव्यवस्था की स्थिति की करेंगी समीक्षा

वित्त मंत्री (Finance Minister) निर्मला सीतारमण वैश्विक और घरेलू चुनौतियों के बीच अर्थव्यवस्था की स्थिति की समीक्षा करेंगी. वित्त मंत्री यह समीक्षा वित्तीय स्थिरता और विकास परिषद (Financial Stability and Development Council-FSDC) की बैठक में 15 सितंबर को करेंगी. मुंबई में आयोजित होने वाली इस उच्चस्तरीय बैठक में रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास (Shaktikanta Das) समेत सभी फाइनेंशियल सेक्टर के नियामक शामिल होंगे. यह एफएसडीसी की 26वीं बैठक है.


इन पर होगी चर्चा

FSDC केंद्रीय वित्त मंत्री की अध्यक्षता में क्षेत्रीय नियामकों का शीर्ष निकाय है. बैठक में मौजूदा वैश्विक और घरेलू आर्थिक स्थिति और वित्तीय स्थिरता के मुद्दों की समीक्षा की जाएगी. इसमें बैंकिंग और एनबीएफसी से संबंधित मुद्दे शामिल हैं. उन्होंने कहा कि काउंसिल फाइनेंशियल सेक्टर के विकास और व्यापक आर्थिक स्थिरता के साथ समावेशी इकोनॉमिक ग्रोथ हासिल करने के लिए जरूरी उपायों पर भी चर्चा करेगी.


FY23 में GDP ग्रोथ 7.2% रहने का अनुमान


RBI के अनुमान के मुताबिक, देश का सकल घरेलू उत्पाद (GDP) चालू वित्त वर्ष में 7.2% की दर से बढ़ेगा, जबकि खुदरा महंगाई दर 6.7% पर रह सकती है. सरकार और केंद्रीय बैंक दोनों का मुख्य ध्यान महंगाई को काबू करने पर है. रुपया इस समय डॉलर के मुकाबले 80 के स्तर के आसपास है, जिससे मुद्रास्फीति पर दबाव बढ़ रहा है.


बैठक में एफएसडीसी के पिछले निर्णयों पर सदस्यों द्वारा की गई कार्रवाई की भी समीक्षा की जाएगी. एफएसडीसी की आखिरी बैठक आम बजट 2022-23 को पेश किए जाने के बाद फरवरी में हुई थी.

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.