Saturday, 17 September 2022

Mumbai : कैश वैन के साथ 2.80 करोड़ रुपये ले उड़ा था ड्राइवर, अब मामले में पकड़े गए तीन आरोपी

Mumbai : मुंबई पुलिस ने एक एटीएम कैश वैन चालक को गिरफ्तार किया है, जो मुंबई के गोरेगांव (पश्चिम) में एक बैंक के एटीएम में जमा किए जाने वाले 2.80 करोड़ रुपये और उसके दो साथियों के साथ भाग रहा है. गोरेगांव पुलिस अधिकारियों ने गुरुवार को बताया कि तीनों का पूर्व आपराधिक रिकॉर्ड है और उन्होंने उनके कब्जे से 2.25 करोड़ रुपये बरामद किए हैं. उन्होंने बताया कि वैन चालक, 49 वर्षीय उदयभान सिंह, जो मुख्य आरोपी है, को आठ सितंबर को गिरफ्तार किया गया था और उसके सहयोगी आकाश यादवऔर हृषिकेश उर्फ ​​ओमप्रकाश सिंह को क्रमश: 11 और 12 सितंबर को गिरफ्तार किया गया था.


कैश वैन ही लेकर फरार हो गया था आरोपी


पुलिस के अनुसार, उदयभान 5 सितंबर को दोपहर करीब 12.20 बजे कैश वैन लेकर चला गया, जब वह बैंक के एटीएम में पैसा जमा करने के लिए गोरेगांव (पश्चिम) में यूनियन बैंक पहुंचा था. जैसा कि उसे पता था कि वाहन में एक जीपीएस ट्रैकर है, तो उसने कुछ ही मिनटों में पास के पीरामल नगर इलाके में वैन को छोड़ दिया और 2.80 करोड़ रुपये लेकर भाग गया. पुलिस ने कहा कि उदयभान को एक निजी कंपनी ने काम पर रखा था, जो कुछ महीने पहले शहर में कई बैंकों के कैश को एटीएम कियोस्क तक पहुंचाने का काम करती है.


तीनों पर पहले भी दर्ज थे मामले


जांच अधिकारियों ने उदयभान से 1.26 करोड़ रुपये, यादव से 51.50 लाख रुपये और सिंह से 48.10 लाख रुपये बरामद किए. जोन 11 के डीसीपी विशाल ठाकुर ने कहा, 'हमने 80.46 फीसदी पैसा वसूल कर लिया है और बाकी रकम की वसूली के लिए जांच की जा रही है. पुलिस ने कहा कि चूंकि तीनों आरोपियों का पूर्व आपराधिक रिकॉर्ड था, इसलिए वे अपने मुखबिरों की वजह से पकड़ने में कामयाब रहे और उन पर सुराग हासिल किया. बकौल द इंडियन एक्सप्रेस, गोरेगांव पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ निरीक्षक दत्तात्रेय थोपटे ने कहा कि “उदयभान के खिलाफ डकैती, अपहरण और शस्त्र अधिनियम के पिछले मामले हैं, जबकि यादव के खिलाफ सात मामले हैं जिनमें तीन हत्या के प्रयास, एक हत्या, लूट और जबरन वसूली शामिल हैं. ओमप्रकाश सिंह पर उनके खिलाफ डकैती का मामला है.”


Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.