Friday, 2 September 2022

मुंबई: पूर्व सूचना आयुक्त शैलेश गांधी हुए सेक्सटोर्शन के शिकार, दर्ज कराई FIR

 


टेक्नोलॉजी के बदलते प्रयोग के साथ-साथ बदमाशों ने भी लोगों को धमकाने, वसूली करने के नए तरीके अपना लिए हैं. इसी तरह की एक घटना में देश के पूर्व सूचना आयुक्त शैलेश गांधी भी सेक्सटोर्शन का शिकार हो गए. हालांकि उन्होंने समय रहते सान्ता क्रूज पुलिस स्टेशन में इसकी शिकायत कर एफआईआर दर्ज कराई है.


आजकल अक्सर लोगों को अनजान नंबर से वीडियो कॉल आता है और कॉल अटेंड करते ही उस पर अश्लील वीडियो चलने लगता है. इस पूरे वाकये में जिसके पास कॉल आती है, उसका वीडियो रिकॉर्ड कर लिया जाता है और फिर बाद में उसे डरा-धमकाकर पैसे की वसूली की जाती है. 


कुछ ऐसा ही वाकया शैलेश गांधी के साथ भी हुआ. एफआईआर के मुताबिक शैलेश गांधी को 27 अगस्त की सुबह करीब 10 बजे एक अज्ञात नंबर से व्हाट्सएप कॉल आया. जैसे ही उन्होंने कॉल उठाई तो सामने एक लड़की दिखाई दी, जिसने तुरंत अपने कपड़े निकालने शुरू कर दिए. इसके तत्काल बाद शैलेश गांधी ने कॉल कट कर दी.  हालांकि इसके कुछ देर बाद उन्हें एक मेसेज आया, लेकिन उन्होंने उसका कोई रिप्लाई नहीं दिया. 


घटना के अगले दिन उन्हें एक नंबर से नॉर्मल कॉल आई और सामने वाले ने खुद को आईपीएस अधिकारी राकेश अस्थाना बताया. फोन पर उसने चिल्लाना शुरु कर दिया और कहने लगा कि गांधी ने बहुत गंदा काम किया है, उन्होंने जो काम किया है उसके ऊपर एक्शन लिया जाए क्या? इसके बाद शैलेश गांधी को लग कि ये कोई फर्जी आदमी है और उन्हें फंसाने की कोशिश कर रहा है. 

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.