Saturday, 3 September 2022

Mumbai : गणपति विसर्जन के लिए बनाई झील में डूबकर 7 साल के मासूम की मौत, दोस्तों के साथ आया था पंडाल

Mumbai : मुंबई में इन दिनों गणेश चतुर्थी की धूम है। लोग अपने घर में गणपति को लाने के बाद विसर्जन के लिए लेकर जा रहा हैंए लेकिन विसर्जन के दौरान कई लोग हादसे का भी शिकार हो रहे हैं। अब गणपति विसर्जन के दौरान एक झील में बच्चे के डूबने की खबर है। मामला मुंबई के ठाणे का है। शुक्रवार की शाम राबोदी में गणेश प्रतिमा विसर्जन के लिए बनाई गई आर्टिफिशियल झील में सात साल का बच्चा डूब गया। 


पुलिस ने बताया है कि वह अपने कुछ दोस्तों के साथ गणपति पंडाल में घूम रहा था और फिर डूब गया। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि शुक्रवार रात उसके शव को झील से निकाला गया। ठाणे नगर निगम ;टीएमसीद्ध ने राबोदी के मीनाताई ठाकरे चौक पर गणेशोत्सव उत्सव से पहले आर्टिफिशियल झील का निर्माण किया गया है। 


झील में सुरक्षा बैरिकेड्स या गार्ड की कमी थी

चार फुट गहरी झील का उपयोग केवल छोटी-छोटी मूर्तियों के विसर्जन के लिए किया जा रहा है। पुलिस के अनुसार पिछले दो दिनों से चूंकि झील में विसर्जन के लिए लोगों की भीड़ पहुंच रही थी,  इसलिए आसपास की झुग्गियों के कई बच्चे झील परिसर में मस्ती करने के लिए पानी में प्रवेश करने की कोशिश कर रहे थे। साइट पर मौजूद गार्ड्स और इमर्शन टीम ने दावा किया कि उन्होंने बच्चों को डांटा और उन्हें वहां से भगा दिया। शुक्रवार को कोई विसर्जन नहीं हुआ और झील में सुरक्षा बैरिकेड्स या गार्ड की कमी थी ऐसे में बच्चा झील में चला गया और डूबने से उसकी मौत होग ई। बच्चे की पहचान अपना नगर इलाके के रहने वाले 7 वर्षीय जैहाद शेख के रूप में हुई है। 


कुछ बच्चे मदद के लिए चिल्लाने लगे

राबोडी पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक एस घाटेकर ने कहा कि आसपास के कुछ लोगों ने बच्चे को  शाम करीब साढ़े सात बजे अन्य बच्चों के साथ इलाके में जाते देखा। रात करीब आठ बजे शेख के डूबने पर कुछ बच्चे मदद के लिए चिल्लाने लगे। हम 5 मिनट में आरडीएमसी की टीम के साथ मौके पर पहुंचे और उसे पानी से बाहर निकाला। शेख को अस्पताल ले जाया गया, जहां पहुंचने से पहले उसे मृत घोषित कर दिया गया। लड़के के परिवार के सदस्य इस बात से अनजान थे कि वह खेलने के लिए झील पर गया था। 

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.