Thursday, 8 September 2022

Maharashtra : पुलिस ने उल्हासनगर लूट मामले को सुलझाया, 4 लोग गिरफ्तार

Maharashtra : ठाणे पुलिस ने 4 लोगों को गिरफ्तार करने के साथ ही यहां उल्हासनगर शहर में एक मकान से 10.4 लाख रुपये की नकदी तथा कीमती सामान की लूट के मामले को सुलझाने का दावा किया है। पुलिस ने बताया कि 30 अगस्त को हथियारबंद लुटेरे एक धार्मिक संप्रदाय स्वामी दामराम साहिब दरबार के एक पुजारी के घर में घुसे थे। उन्होंने सोने और चांदी के आभूषणों के अलावा 80,000 की नकदी लूटने से पहले पुजारी के बेटे पर हमला भी किया था। 



करीब 150 सीसीटीवी फुटेज खंगाले


पुलिस ने बुधवार को एक प्रेस रिलीज जारी कर बताया कि इसके बाद विठ्ठलवाड़ी पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ एक मामला दर्ज किया। पुलिस के 8 दलों को इसकी जांच का जिम्मा सौंपा गया था। पुलिस ने ठाणे के मुंब्रा और कल्याण इलाकों, पड़ोसी रायगढ़ जिले और मुंबई में विभिन्न स्थानों पर 100 से 150 सीसीटीवी फुटेज खंगाले और इससे उन्हें एक कार का पता लगा, जिसका इस्तेमाल अपराध में किया गया था।


लूट में इस्तेमाल कार बरामद


प्रेस रिलीज के अनुसार, बाद में यह कार मुंब्रा में मिली और कार के मलिक अकबर इमरान खान ने पुलिस को बताया कि उसने और कुछ अन्य लोगों ने लूट की वारदात को अंजाम दिया था। इस सूचना के आधार पर पुलिस ने आसिफ वारिस अली शेख, शिवलिंग वीरसिंह सिकलकर और राहुलसिंह बबलूसिंह जूनी नाम के 3 अन्य लोगों को गिरफ्तार किया। पुलिस ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ एक मामला दर्ज किया गया है।


कुछ दिन पहले जयपुर में हुई लूट


कुछ दिन पहले राजस्थान की राजधानी जयपुर में 3 सितम्बर की सुबह साढ़े 11 बजे जयपुर दिल्ली एक्सप्रेस हाइवे के पास धाभास रोड़ पर पांच बदमाशों ने लूट की वारदात कर डाली। प्लाईवुड के ऑफिस में बैठे व्यारारी विवेक अग्रवाल की कनपटी पर पिस्तौल रखकर बदमाशों ने ऑफिस में रखे 15 लाख 40 हजार रुपये लूट लिए और फरार हो गए। सूचना मिलने पर पुलिस ने नाकाबंदी करवाई लेकिन बदमाशों का सुराग नहीं लगा।


खबरों के मुताबिक धाभास रोड़ विवेक अग्रवाल की अग्रवाल वूड्स नाम से लकड़ी और प्लाई का शोरूम है। सुबह विवेक अग्रवाल ऑफिस में बैठे थे। साथ में एक कर्मचारी शोरूम में काम कर रह था। इसी दौरान 5 बदमाश घुसे। बदमाशों ने व्यापारी और कर्मचारी को बंधक बना लिया। इस दौरान व्यापारी के सिर पर हमला भी किया। बाद में बदमाशों ने व्यापारी के सिर पर पिस्तौल रखी दी। ऑफिस की दराज को तोड़कर 15 लाख 40 हजार रुपये लूटकर फरार हो गए।


Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.