Tuesday, 27 September 2022

प्रधानमंत्री 29-30 सितंबर को जाएंगे गुजरात, कई योजनाओं का करेंगे उद्घाटन, शिलान्यास


नयी दिल्ली
: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आगामी 29 और 30 सितंबर को गुजरात जाएंगे जहां वह 29,600 करोड़ रुपये की विभिन्न परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे।

प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने एक बयान में बताया कि इस दौरान वह बृहस्पतिवार को अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में 36वें राष्ट्रीय खेलों का उद्घाटन भी करेंगे।

पीएमओ ने कहा कि प्रधानमंत्री गुजरात के सूरत, भावनगर, अहमदाबाद और अंबाजी में 29,600 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे।

ज्ञात हो कि गुजरात में इस साल के आखिर में विधानसभा चुनाव होने हैं।

पीएमओ के मुताबिक, प्रधानमंत्री 29 सितंबर को सूरत में 3,400 करोड़ रुपये की लागत वाली विभिन्न परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे। इनमें जल आपूर्ति, निकासी, ड्रीम सिटी, जैव विविधता पार्क और सार्वजनिक बुनियादी ढांचा से जुड़ी विकास परियोजनाएं शामिल हैं।

इसके बाद प्रधानमंत्री भावनगर का दौरा करेंगे जहां वह 5,200 करोड़ रुपये की विभिन्न विकासात्मक पहलों व परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे।

प्रधानमंत्री यहां विश्व के पहले सीएनजी टर्मिनल और ब्राउनफील्ड बंदरगाह की आधारशिला रखेंगे। बुनियादी सुविधाओं से लैस इस बंदरगाह को 4,000 करोड़ रुपये की लागत से विकसित किया जाएगा। इसके अलावा प्रधानमंत्री भावनगर क्षेत्रीय विज्ञान केंद्र का उद्घाटन भी करेंगे। कुल 100 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित यह केंद्र 20 एकड़ भूभाग में फैला है ।

पीएमओ ने कहा कि प्रधानमंत्री राष्ट्रीय खेलों का उद्घाटन करने के बाद खिलाड़ियों को संबोधित भी करेंगे। इस कार्यक्रम के दौरान वह विश्व स्तरीय स्वर्णिम गुजरात खेल विश्वविद्यालय का उद्घाटन करेंगे।

प्रधानमंत्री अहमदाबाद में एक कार्यक्रम में अहमदाबाद मेट्रो परियोजना के पहले चरण का उद्घाटन और गांधीनगर व मुंबई के बीच वंदे भारत ट्रेन के नए संस्करण को हरी झंडी दिखाने सहित रेल संबंधी कुछ अन्य परियोजनाओं का भी उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे। अहमदाबाद मेट्रो परियोजना के पहले चरण को पूरा करने में 12,900 करोड़ रुपये से अधिक की लागत आई है।

पीएमओ ने कहा कि प्रधानमंत्री अंबाजी में 7,200 करोड़ रुपये की विभिन्न परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे। इनमें पीएम-आवास योजना के तहत 45,000 मकानों और तरंगा पहाड़ी-अंबाजी-आबू रोड के बीच रेलवे की नयी बड़ी लाइन बिछाने की आधारशिला रखा जाना शामिल है।

प्रधानमंत्री पालनपुर-न्यू मेहसाणा रेल खंड के बीच 62 किलोमीटर लंबे पश्चिमी समर्पित माल ढुलाई गलियारे को राष्ट्र को समर्पित करेंगे।

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.