Tuesday, 2 August 2022

Mumbai: दही हांडी उत्सव को लेकर समन्वय समिति की 'पाठकों' को सलाह- बेवजह खर्च और टी-शर्ट की बजाए बीमा खरीदें

मुंबई: मुंबई में कोरोना काल के दो साल के अंतराल के बाद दही हांडी पर्व (Dahi Handi Festival) मनाए जाने की छूट मिल गई है। इसको लेकर दही हांडी (Dahi Handi) पाठक पूरे जोश के साथ तैयारियों में जुट गए हैं। गोविंदा पाठकों (समूह) को उम्मीद है कि इस बार आयोजक बड़े पैमाने की प्रतिस्पर्धा आयोजित करेंगे।


खबर के मुताबिक, इसे लेकर दही हांडी उत्सव समन्वय समिति (DHUSS) ने पाठकों को सुरक्षा की सलाह दी है। समिति का कहना है कि दही हांडी के उत्सव में पाठकों को टी-शर्ट और अन्य चीजों पर खर्च करने की बजाए अपने सदस्यों के लिए सुरक्षा किट और बीमा खरीदना चाहिए।


समिति नहीं चाहती कि कोई हादसा हो


समन्वय समिति के सदस्य अरुण पाटिल ने तैयारियों के बारे में कहा, “समिति पाठकों को उनके दैनिक अभ्यास के अनुसार ही मानव पिरामिड बनाने के लिए प्रोत्साहित करती है। समिति नहीं चाहती कि त्योहार के दिन कोई भी पाठक बिना किसी पूर्व अभ्यास के अपने टियर के स्तर को बढ़ाए, क्योंकि इससे हादसे होंगे।"


समिति के अध्यक्ष बाला पडलकर ने कहा, “दो साल का अंतराल हो गया है, इसलिए पाठकों को त्योहार के दिन प्रदर्शन करने से पहले अभ्यास करने की आवश्यकता है। हमने गोविंदा पाठकों से मुख्य रूप से अपने सदस्यों के लिए चिकित्सा बीमा कवर करने पर ध्यान केंद्रित करने के लिए कहा है। इसे प्राथमिकता के आधार पर किया जाना चाहिए।"


मुंबई में हजारों में है गोविंदा पाठकों की संख्या


गौरतलब है कि दही हांडी पाठकों का अभ्यास गुरु पूर्णिमा के दिन से शुरू होता है। इस साल, दही हांडी 19 अगस्त को मनाई जाएगी। मुंबई में लगभग 1,500 से 2,000 गोविंदा पाठक हैं, जिनमें से केवल तीन से चार पाठक ही नौ-स्तरीय मानव पिरामिड बना सकते हैं, 20 से 25 पाठक आठ-स्तरीय मानव पिरामिड बना सकते हैं।


प्रो गोविंदा प्रतियोगिता का होगा आयोजन


वर्तक नगर में संस्कृति युवा प्रतिष्ठान दही हांडी, ठाणे का आयोजन करने वाले विधायक प्रताप सरनाइक के पुत्र पूर्वेश सरनाइक प्रो गोविंदा प्रतियोगिता का आयोजन करेंगे। पिछले दही हांडी कार्यक्रम तक, प्रो गोविंदा प्रतियोगिता केवल आठ-स्तरीय और नौ-स्तरीय मानव पिरामिड प्रदर्शन करने वाले पाठकों के लिए थी।


समिति सदस्य पाटिल ने कहा, "हालांकि कई मंडलों ने दही हांडी प्रतियोगिता आयोजित करने की अपनी योजना की घोषणा नहीं की है, हमने ठाणे के वर्तक नगर में प्रो गोविंदा आयोजकों के साथ एक बैठक की थी। इस साल, वे पांच और छह-स्तरीय मानव पिरामिड बनाने वाले पाठकों को भी मौका देने पर सहमत हुए हैं।”

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.