Friday, 12 August 2022

Mumbai: दरगाह दर्शन के लिए गए दो युवक मीठी नदी में डूबे, एक की मौत, दूसरा लापता

मुंबई के माहिम कॉस्वे में मीठी नदी में दो युवकों के डूबने की खबर है. दोनों युवक कुर्ला से माहिम दरगाह दर्शन के लिए गए थे. देर रात घर लौटते समय कुछ देर के लिए दोनो माहिम कॉस्वे के खाड़ी पास खड़े थे. तभी एक युवक का पैर पानी के बहाव के चलते फिसला और वह नीचे गिर गया. इसी बीच उसे बचाने दूसरा युवक कूदा, लेकिन मीठी नदी के बहाव में दोनों डूब गए. हादसे में एक युवक की मौत हो गई उसका शव बरामद किया गया है. जबकि दूसरे की तलाश जारी है.


जावेद शेख नामक व्यक्ती का शव फायर ब्रिगेड ने बरामद कर लिया है. वहीं लापता दूसरे युवक आशिफ की तलाश जारी है. इससे पहले भी प्रदेश में डूबने की घटनाएं सामने आती रही हैं. पुणे जिले के चकन इलाके में पानी से भरे एक गहरे गड्ढे में डूबकर तीन नाबालिग भाई-बहनों की मौत हो गयी. पुलिस ने बताया कि चकन के समीप अंबेथन गांव में एक खेत पर पानी से भरे गड्ढे में नहाने के दौरान चार से आठ साल के इन बच्चों की डूबकर मौत हो गयी. उन्होंने कहा कि राकेश किशोर दास (पांच), उसका भाई रोहित (आठ) और बहन श्वेता (चार) गड्ढे में उतरे थे जिसे उनके पिता ने खेत पर खोदा था और उसमें बारिश का पानी इकट्ठा हो गया था.


बिहार का रहने वाला था परिवार

अधिकारी के अनुसार एक व्यक्ति ने गड्ढे के समीप रखे कपड़ों को देखा और उसे शक हुआ एवं फिर तलाशी के बाद गड्ढे से तीनों के शव मिले. उन्होंने कहा था कि इन बच्चों के माता-पिता बिहार के हैं और वे यहां मजदूरी करते हैं. पुणे में ही एक और ऐसा मामला सामने आया था. यहां जलाशय में डूबने की 2 अलग-अलग घटनाओं में एक ही परिवार की 5 महिलाओं और 4 स्कूली बच्चों की मौत हो गई थी. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि भोर तहसील के भाटघर बांध के जलाशय में तैरने के दौरान डूबने से 5 महिलाओं की मौत हो गई, वहीं खेड तहसील के चासकमन जलाशय में 10वीं कक्षा के 4 बच्चों की डूबने से मौत हो गई थी.


सभी महिलाएं जलाशय में गईं तैरने

पहली घटना के संबंध में पुणे ग्रामीण पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि सभी महिलाएं परिवार के किसी समारोह में हिस्सा लेने के लिए पुणे के भोर तहसील के नारेगांव गई हुईं थी. शाम को सभी महिलाएं जलाशय में तैरने चली गईं. पुलिस अधिकारी ने बताया कि महिलाएं जब डूबने लगीं तो उनके साथ मौजूद 9 साल की बच्ची ने अन्य लोगों को इसकी सूचना दी, लेकिन किसी को बचाया नहीं जा सका.


Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.