Saturday, 27 August 2022

पुणेकरों ने क्यों रोका एकनाथ शिंदे का काफिला? हाईवे पर 2 घंटे तक रुके सीएम, जानिए वजह

मुंबई: महाराष्ट्र (Maharashtra) के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे (CM Eknath Shinde) को बीती रात मुंबई- बेंगलुरू हाईवे पर पुणे (Pune) में तकरीबन 2 घंटे नागरिकों की नाराजगी उठानी पड़ी। इस वजह से उन्हें दो घंटे तक हाईवे पर ही रुकना पड़ा। दरअसल उनके काफिले को पुणेकरों ने रोक दिया था। यह घटना तब हुई जब मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे सातारा की तरफ जा रहे थे। तभी चांदनी चौक (Chandani Chowk) के पास सड़क पर एक गाड़ी बंद होने की वजह से उनका काफिला रुका। जब इस बात की जानकारी पुणेकरों को मिली तब उन्होंने मुख्यमंत्री का घेराव किया और उन्हें सवाल जवाब किया। नागरिक यहां ट्रैफिक की समस्या (Pune Traffic Problem) से निजात चाहते थे। सीएम के आश्वासन के बाद ही उनका काफिला आगे बढ़ पाया।


2 घंटे तक हाईवे पर रुके सीएम एकनाथ शिंदे

यह घटना तब हुई जब मुंबई-बंगलोर हाईवे से सीएम शिंदे बीती शाम सातारा की तरफ जा रहे थे। सीएम के आने की सूचना के तहत पुलिस ने सड़क पर आवाजाही को रोक दिया था। जिसकी वजह से शाम को ड्यूटी से घर जा रहे लोगों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। इस वजह से पूरे हाईवे पर गाड़ियों की लंबी- लंबी कतार लग गई। इसी दौरान सीएम का काफिला जाता देखकर नागरिकों ने उनके काफिले को रोक लिया। जिसके बाद ट्रैफिक जाम में फंसे लोगों की समस्याओं को मुख्यमंत्री ने सुना।


नागरिकों की तकलीफ को सुनने के बाद सीएम ने संबंधित विभाग के अधिकारियों को नागरिकों की समस्या हल करने का आदेश भी दिया। जानकारी के मुताबिक आज अधिकारी चांदनी चौक का दौरा भी करेंगे।


ये है नागरिकों की समस्या

इस ट्रैफिक जाम की वजह से सीएम को भी तकरीबन दो घंटे सड़क पर ही रुकना पड़ा। नागरिकों ने सीएम से चांदनी चौक, पुणे, पिंपरी-चिंचवड में ट्राफिक की समस्या दूर करने की मांग की। मेट्रो का काम शुरू होने की वजह से अक्सर लोगों को ट्रैफिक की समस्या झेलनी पड़ रही है। नागरिकों की तकलीफ को सुनने के बाद सीएम ने इस बाबत वरिष्ठ के अधिकारियों आदेश भी जारी किया है। इसके बाद ही सीएम का काफिला आगे बढ़ पाया।

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.