Thursday, 25 August 2022

बीजेपी राष्ट्रीय पार्टी है या चोर बाजार? मुंबई में एक कार्यक्रम से उद्धव ने 'ठाकरे' अंदाज में बीजेपी पर साधा निशाना

शिवसेना को एकनाथ शिंदे समेत 40 विधायकों और 12 सांसदों के बगावत के झटके से अभी उबरना बाकी है। सियासी गलियारों में इस बात की चर्चा चल रही है कि शिवसेना में सेंधमारी का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे पार्टी को बचाने के लिए एक के बाद एक बैठक कर रहे हैं, आदित्य ठाकरे काफी सक्रिय हो गए हैं। इसमें उद्धव ठाकरे ने शिंदे समूह के साथ एक बार फिर बीजेपी पर जोरदार हमला बोला है। उद्धव ठाकरे ने आलोचना की है कि बीजेपी का एक सूत्री कार्यक्रम दूसरे के विधायक-खासदार को चुराना है। दोनों पार्टियों के नेता एक-दूसरे को लताड़ने का कोई मौका नहीं छोड़ते। एकनाथ शिंदे की बगावत के बाद उद्धव ठाकरे बीजेपी के खिलाफ और आक्रामक होते दिख रहे हैं। 


हम जो चाहें करेंगे, लेकिन हमें शक्ति चाहिए


उद्धव ने कहा कि अब अगर कुछ विधायक-खासदार गायब हो जाते हैं, तो उन्हें भी वहां देखना होगा। कोई आत्म विचार नहीं, कोई आचरण नहीं। बस सत्ता चाहिए। उद्धव ठाकरे ने कहा कि हम जो चाहें करेंगे, लेकिन हमें सत्ता चाहिए। सभी विधायक, सांसद, नेता सपने चुराते थे। उद्धव ठाकरे ने इस बार भाजपा से भी पूछा कि यह आपकी पार्टी है या चोरबाजार। इस बीच उद्धव ठाकरे ने भाजपा का मजाक उड़ाते हुए कहा कि यह राष्ट्रीय पार्टी नहीं बल्कि चोर बाजार है। विधायक-खासदार को दूसरे दल से चुराना ही उनका एकमात्र कार्यक्रम है। उनका एक सूत्री कार्यक्रम दूसरे दलों के नेताओं को लाना है। 


मुंबई में एक कार्यक्रम से उद्धव ठाकरे ने ठाकरे अंदाज में बीजेपी पर निशाना साधा है। उद्धव ठाकरे ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि विधायक-खासदार लाओ। वे भी काफी नहीं हैं इसलिए पार्टी के नेता को दूसरी पार्टी से चुरा लें। आप खुद सपने भी नहीं देखते हैं। तो, दूसरे लोगों के सपने भी चुरा लो।


Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.