Tuesday, 2 August 2022

सीएम गहलोत का मोदी सरकार पर हमला, बोले-ईडी को पुलिस से ज्यादा अधिकार दिए

इन दिनों देश में ईडी ने कई नेताओं के यहां छापेमारी की और कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को पूछताछ के लिए तलब किया. जिस पर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने ईडी की शक्तियों पर मुहर लगा दी.


उसे अब अपनी कार्रवाई को सही ठहराने की भी जरूरत नहीं है और वह किसी को भी गिरफ्तार कर सकती है. इसे पुलिस से ज्यादा अधिकार दिए गए हैं. मुख्यमंत्री ने जयपुर में बजट योजनाओं की समीक्षा के लिए आयोजित एक कार्यक्रम में ये बातें कहीं.


मुख्यमंत्री गहलोत ने आगे कहा कि इस देश में एक धर्म की राजनीति चल रही है. इस राष्ट्र ने ऐसा कभी नहीं देखा था. लोग चिंतित हैं, लेकिन वे डरे हुए हैं और ईडी के डर से बोल नहीं पा रहे हैं. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का ये बयान ईडी द्वारा विपक्षी दलों के कई नेताओं की गिरफ्तारी के बीच आया है. जांच एजेंसी ने मुंबई में पात्रा चॉल परियोजना के पुनर्विकास से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में रविवार को शिवसेना सांसद संजय राउत को गिरफ्तार किया.


इससे पहले ईडी ने अब निलंबित हो चुके टीएमसी नेता पार्थ चटर्जी को भी गिरफ्तार कर लिया था, जब उसे उनकी सहयोगी अर्पिता मुखर्जी के आवास पर 20 करोड़ रुपए से अधिक कैश मिला था. मुख्यमंत्री गहलोत ने पीएम मोदी पर भी हमला किया और कहा कि प्रधानमंत्री ने उदयपुर में एक दर्जी का सिर काटने के बाद अहिंसा के लिए अपील जारी करने के उनके अनुरोध पर कार्रवाई नहीं की.


मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि उदयपुर में हत्या के बाद अगर गिरफ्तारी तेजी से नहीं की गई होती तो राज्य के साथ देश में सांप्रदायिक दंगे हो सकते थे. मैंने इसे रोका. मैंने पीएम मोदी से लोगों से एक अपील जारी करने के लिए कहा कि हिंसा बर्दाश्त नहीं की जाएगी, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया. गहलोत ने कहा कि पीएम ने कोरोना महामारी के दौरान लोगों से ‘ताली-थाली’ में भाग लेने के लिए कहा, लेकिन हिंसा में शामिल न होने की अपील नहीं की.

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.