Saturday, 6 August 2022

मुबंई से साइकिल से निकले महाराष्ट्र पुलिस के जवान इंदौर आए, तिरंगा फहराने का दिया संदेश

इंदौर : तिरंगे की शान, देश और देशवासियों की सुरक्षा की शपथ लेने वाले पुलिस के जवान अब जागरूकता की अलख जगाने साइकिल रैली निकाल रहे हैं। आजादी के अमृत महोत्सव के तहत महाराष्ट्र पुलिस के वर्तमान और भूतपर्व पदाधिकारियों के साथ अधीनस्थ कर्मचारी मुंबई के गेटवे आफ इंडिया से दिल्ली के इंडिया गेट तक के सफर पर निकले हैं। हर घर में तिरंगा फहराया जाए, कि कामना को लिए नौ जवान शनिवार को इंदौर होते हुए शाजापुर के लिए रवाना हुए।


मुंबई, धुले, गढ़चिरौली और पुणे के ये जवान जहां से भी गुजर रहे हैं वहां के लोगों को तिरंगा फहराने का संदेश दे रहे हैं। 2 अगस्त को मुंबई के गेटवे आफ इंडिया से शुरू हुआ इनका सफर 13 अगस्त को दिल्ली में खत्म होगा। 15 अगस्त को ये लाल किले पर आयोजित होने वाले कार्यक्रम का हिस्सा बगेंगे। हर दिन 150 किमी साइकिल चलाने का लक्ष्य लिए इनका सफर सुबह 6 बजे शुरू होता है जो निर्धारित दूरी तय होने के बाद ही विराम लेता है।


लोगों को दे रहे संदेश - गढ़चिरौली के असिस्टेंट पुलिस इंस्पेक्टर शरद पाटिल बताते हैं कि इस साइकिल रैली में विभिन्न पदाधिकारी शामिल हैं। आजादी के अमृत महोत्सव के तहत जागरूकता के लिए यह रैली निकाली जा रही है जिसके माध्यम से लोगों को न केवल तिरंगे का महत्व और घर-घर तिरंगा फहराने का संदेश दिया जा रहा है, बल्कि उन्हें यातायात के नियमों का पालन, महिला और बाल सुरक्षा की जानकारी व अधिकारों के प्रति सजग रहने की बात भी बताई जा रही है।


13 अगस्त को पहुंचेंगे दिल्ली - इस साइकिल रैली में धुले के एडिशनल एसपी प्रशांत बच्चाव, एडिशनल डिप्टी कमिश्नर धनंजय येरूले (एसआइडी मुंबई), असिस्टेंड पुलिस सबइंस्पेक्टर दिलीप खोंडे, रिटायर्ड असिस्टेंट पुलिस सब इंस्पेक्टर अनिल जाधव, पुलिस हेड कांस्टेबल जितेंद्रसिंह परदेशी, प्रकाश माली, शिवाजी हबले व मनोज भंडारी शामिल हैं। शाजापुर से ये वीनागंज, ग्वालियर, आगरा, फरीदाबाद होते हुए 13 अगस्त को दिल्ली पहुंचेंगे। शरद बताते हैं कि यह पहला मौका है जब सभी एक साथ साइकिलिंग कर रहे है और वह भी देश के लिए। अभी तक हर कोई अपने-अपने स्तर पर साइकिलिंग कर चुका है। इस बार जोश-जुनून ज्यादा है जो देशवासियों से मिल रहे प्यार व अपनेपन से और भी बढ़ रहा है।

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.