Friday, 26 August 2022

Mumbai : बहन के लिए क्रिमिनल बना भाई, गिफ्ट देने के लिए चुराए 2.50 करोड़ रुपये के डायमंड झुमके

Mumbai : बहन-भाई का रिश्ता बेहद अटूट माना जाता है। एक भाई अपनी बहन की खुशी के लिए सब कुछ करने को तैयार रहता है। बहन भी भाई के लिए कोई कमी नहीं छोड़ती है, लेकिन एक भाई अपनी बहनों के लिए क्रिमिनल बन सकता है ये किसी ने नहीं सोचा होगा। मुंबई में एक भाई का ऐसा ही मामले सामने आया है जो अपनी बहनों की खुशी पूरी करने के लिए क्रिमिनल बन गया है। 


अंधेरी वेस्ट में एक ज्वेलरी शोरूम से 2.50 करोड़ रुपये के हीरे के झुमके चोरी करने के आरोप में पुलिस ने 19 साल के एक युवक को गिरफ्तार किया है। आरोपी की पहचान बृजेश के तौर पर हुई है। बिहार का रहने वाला बृजेश 77 वर्षीय एनआरआई महिला के यहां केयर टेकर का काम करता है। 


इस तरह चुराए कीमती झुमके

पुलिस को बताया कि आरोपी अपनी तीन बहनों को चोरी के झुमके गिफ्ट में देना चाहता था। मामले पर अंबोली पुलिस स्टेशन के एक वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक बंदोपंत बंसोडे ने कहा कि ज्वेलरी की दुकान के सीसीटीवी फुटेज से पता चला है कि बृजेश मंगलवार को छह बक्सों में रखे 12 जोड़े हीरे जड़ित झुमके चोरी कर रहा था। बृजेश ने घटना को अंजाम उस वक्त दिया जब उसकी एनआरआई मालकिन और उसका आंशिक रूप से लकवाग्रस्त 47 वर्षीय बेटा सेल्समैन से बात करने में व्यस्त था। पुलिस ने बताया कि बृजेश ने झुमके चुराकर अपने बैग में रख लिए थे, जिसे अंबोली पुलिस ने बैग में झुमके के साथ गिरफ्तार किया। 


पुलिस ने आरोपी को ऐसे किया गिरफ्तार

पुलिस के मुताबिक आरोपी बृजेश जल्द ही अपने परिवार से मिलने बिहार जा रहा था। वह अपनी बहनों को कुछ गिफ्ट देना चाहता था और जब उसने देखा उसके सामने डेस्क पर पड़े झुमके हैं तो उसने मौके का फायदा उठाया और उन्हें चुरा लिया। शोरूम के कर्मचारियों द्वारा चोरी की सूचना देने के बाद अंबोली पुलिस ने सीसीटीवी रिकॉर्डिंग हासिल की। बृजेश की मालकिन के कार से नंबर से उनके घर को ट्रैक किया, जिसके बाद बृजेश पकड़ा गया। अंबोली पुलिस ने बृजेश के सामान की तलाशी ली और चोरी का सामान बरामद किया।





Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.