Monday, 1 August 2022

मुंबई: बारिश थमते ही बढ़ी उमस और गर्मी से मुंबईवासियों का बुरा हाल, तापमान में उछाल

मुंबई: मुंबई में जैसे ही बारिश थमी वैसे ही गर्मी ने अपना कहर बरपाना शुरु कर दिया। रविवार के दिन मुंबई वासियों को पूरा दिन उमस और गर्मी से जूझना पड़ा। हालांकि मौसम विभाग का अनुमान है कि अगले कुछ दिनों में बारिश हो सकती है, लेकिन गर्मी से राहत की संभावना बहुत ही कम है।


रविवार को सुबह 8.30 बजे तक बीते 24 घंटों में आईएमडी सांताक्रूज आब्जर्वेटरी ने केवल 1.1 मिमी बारिश दर्ज की है, जबकि कोलाबा आब्जर्वेटरी ने बारिश दर्ज ही नहीं की। अगले 24 से 48 घंटों में अधिकतम तापमान 32 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकता है। तेज बारिश के कारण जुलाई में अधिकांश दिनों में मुंबई का अधिकतम तापमान 28 डिग्री या 29 डिग्री से नीचे पहुंच चुका है।


बारिश के बाद तापमान में हुई गिरावट


जुलाई महीने की शुरुआत में हुई थोड़ी बारिश के बाद से दिन और रात के तापमान में मामूली गिरावट के बाद वृद्धि हुई है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के कोलाबा और सांताक्रूज आब्जर्वेटरीज द्वारा रविवार को न्यूनतम तापमान क्रमश: 27 डिग्री और 26.2 डिग्री दर्ज किया गया। जहां कोलाबा आब्जर्वेटरी ने अधिकतम तापमान 31.6 डिग्री दर्ज किया था। वहीं सांताक्रूज मौसम स्टेशन पर यह 31.8 डिग्री था।


अगले दो दिनों में बारिश की आशंका


आईएमडी ने कहा कि मुंबई और ठाणे में अगले दो दिनों तक मध्यम बारिश होगी। आईएमडी के एक अधिकारी ने रविवार को कहा, "घने बादलों के कारण, जो वातावरण में प्रवेश करने वाली धूप की मात्रा को सीमित करते हैं, शहर के तापमान में इस महीने के अधिकांश दिनों में कमी आई है।"


आईएमडी के अधिकारी ने कहा, "सूर्य की रोशनी वातावरण में प्रवेश करती है और आंशिक रूप से छाए हुए बादलों द्वारा फंस जाती है। घने बादल या साफ आकाश नहीं होते हैं। इसके परिणामस्वरूप मुंबई में वर्तमान में तापमान में वृद्धि का अनुभव हो रहा है।


मध्य महाराष्ट्र और पुणे में होगी बारिश


इस बीच मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि पुणे, औरंगाबाद और राज्य के कुछ अन्य जिलों में गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है। वेगरीज ऑफ वेदर के राजेश कपाड़िया ने कहा, "मध्य महाराष्ट्र और पुणे के मराठवाड़ा जिलों, सतारा, सांगली, कोल्हापुर, सोलापुर, अहमदनगर, नांदेड़, उस्मानाबाद, बीड और परभणी में हल्की बारिश या गरज के साथ बौछारें पड़ सकती हैं, लेकिन रविवार से बारिश कम होने की संभावना है।"

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.