Monday, 1 August 2022

नवाब मलिक, संजय पांडे, संजय राउत…अगला कौन? मोहित कंबोज ने पूछा, रवि राणा ने बताया

1034 करोड़ के पत्रा चॉल घोटाला मामले में संजय राउत को रात 12 बज कर 40 मिनट में अरेस्ट किया गया. आज (सोमवार, 1 अगस्त) सुबह 11.30 बजे उन्हें स्पेशल पीएमएलए कोर्ट में पेश किया जाएगा. ईडी उनकी कस्टडी मांगेगी. इस बीच बीजेपी नेता मोहित कंबोज का एक ट्वीट चर्चा में है. अपने इस ट्वीट में मोहित कंबोज ने लिखा है, ‘ संजय राउत अरेस्ट हुए. नवाब मलिक, संजय पांडे और अब संजय राउत! अगला कौन?’ मोहित कंबोज ने अपने इस ट्वीट में किसी का नाम नहीं लिया, लेकिन सांसद नवनीत राणा के विधायक पति रवि राणा ने अनिल परब का नाम लिया है.


मोहित कंबोज के ट्वीट का जिक्र इसलिए जरूरी है क्योंकि नवाब मलिक की गिरफ्तारी के बाद सबसे पहले मोहित कंबोज ही वो शख्स थे जिन्होंने यह कहा था, ‘संजय राउत गिरफ्तार होंगे और सलीम-जावेद की जोड़ी जेल में एक साथ बैठेगी.’ मोहित कंबोज नवाब मलिक और संजय राउत को सलीम-जावेद की जोड़ी कहा करते हैं.


नवनीत राणा के विधायक पति रवि राणा ने बताया अगला कौन?

मोहित कंबोज ने सवाल उठाया कि अगला कौन? लेकिन नाम नहीं बताया. नाम नवनीत राणा के विधायक पति रवि राणा ने बताया है. रवि राणा ने कहा कि अगला नंबर अनिल परब का है. अनिल परब शिवसेना के नेता और पूर्व परिवहन मंत्री हैं. वे उद्धव ठाकरे के सबसे करीबी लोगों में से एक हैं.


बीजेपी समर्थक निर्दलीय विधायक रवि राणा ने कहा, ‘ पिछले एक साल से ईडी निष्पक्ष तरीके से जांच कर रही है. कई बार संजय राउत को पूछताछ के लिए बुलाया गया. लेकिन राउत टालमटोल करते रहे. संजय राउत ने हेराफेरी की है. इसके सूत्र दूर तक फैले हैं.अब यह मामला अनिल परब तक पहुंचेगा. उन्हें भी जेल में जाना होगा.’


नवाब मलिक के पड़ोसी बनेंगे संजय राउत- किरीट सोमैया

इस मामले में अपना कमेंट देते हुए बीजेपी नेता किरीट सोमैया ने कहा है कि ‘संजय राउत नवाब मलिक के पड़ोसी बनेंगे. जो सबको जेल में डालने की बात किया करते थे, आज वो खुद जेल में जा रहे हैं.’


संजय राउत के खिलाफ स्वप्ना पाटकर ने केस दर्ज करवाया

इस बीच बता दें कि संजय राउत की मुश्किलें और बढ़ गई हैं. स्वप्ना पाटकर ने कथित ऑडियो क्लिप में दर्ज उन्हें संजय राउत द्वारा गाली गलौज करने और ईडी के सामने चुप रहने के लिए धमकी देने के मामले में कल रात मुंबई के वाकोला पुलिस स्टेशन में केस दर्ज करवा दिया. आईपीसी की धारा 504, 506 और 509 के तहत केस दर्ज किया गया है.


Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.