Friday, 26 August 2022

बाजार में मामूली तेजी, बीएसई सेंसेक्स में 59 अंक से अधिक की तेजी

मुंबई: घरेलू शेयर बाजार शुक्रवार को बढ़त में रहे और बीएसई सेंसेक्स में 59 अंक से अधिक की तेजी रही. कारोबार के अंतिम पलों में उतार-चढ़ाव हावी रहने से कारोबार के दौरान बनी तेजी जाती रही.कारोबारियों के अनुसार वैश्विक बाजारों में मजबूत रुख और विदेशी संस्थागत निवेशकों की लिवाली से बाजार को समर्थन मिला.


तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 59.15 अंक यानी 0.10 प्रतिशत चढ़कर 58,833.87 अंक पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान यह एक समय 546.93 अंक तक चढ़ गया था.नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 36.45 अंक यानी 0.21 प्रतिशत की तेजी के साथ 17,558.90 अंक पर बंद हुआ.सेंसेक्स शेयरों में एनटीपीसी, टाइटन, पावर ग्रिड, कोटक महिंद्रा बैंक, लार्सन एंड टुब्रो, टेक महिंद्रा, टाटा स्टील और महिंद्रा एंड महिंद्रा प्रमुख रूप से लाभ में रहे.


दूसरी तरफ, इंडसइंड बैंक, एचडीएफसी, एशियन पेंट्स और भारती एयरटेल नुकसान में रहे.एशिया के अन्य बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी, जापान का निक्की और हांगकांग का हैंगसेंग लाभ में जबकि चीन में शंघाई कंपोजिट सूचकांक नुकसान में रहा.यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरूआती कारोबार में गिरावट का रुख रहा. अमेरिकी शेयर बाजार वाल स्ट्रीट बृहस्पतिवार को लाभ में रहा था.


जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि फेडरल रिजर्व (अमेरिकी केंद्रीय बैंक) के प्रमुख की टिप्पणी से पहले निवेशकों में भरोसे की कमी दिखी और उन्होंने सतर्क रुख अपनाया. निवेशकों को महंगाई को काबू में लाने के लिये फेडरल रिजर्व की तरफ से नीतिगत मोर्चे पर रुख का इंतजार है. इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 1.14 प्रतिशत उछलकर 100.5 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया. शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशकों ने बृहस्पतिवार को 369.06 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे.

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.