Friday, 12 August 2022

महाराष्ट्र: अभी चुनाव हुए तो 48 में से 30 सीटें जीत सकती है महाविकास अघाड़ी, सर्वे में शिंदे- बीजेपी सरकार को झटका


मुंबई: महाराष्ट्र की शिंदे-फडणवीस सरकार (Shinde- Fadnavis Government) के लिए एक चिंताजनक खबर है। एक सर्वे के मुताबिक अगर मौजूदा समय में महाराष्ट्र (Maharashtra) में लोकसभा के चुनाव हुए तो 48 में से 30 सीटों पर महाविकास अघाड़ी (Mahavikas Aghadi) यानी शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी को एकसाथ चुनाव लड़ने पर जीत मिल सकती है। वहीं एनडीए यानी शिंदे- फडणवीस गुट को 18 सीटों से संतोष करना पड़ सकता है। यह सर्वे इंडिया टीवी और सी वोटर्स ने किया है। यदि इस सर्वे पर यकीन करें तो आने वाले लोकसभा और विधानसभा चुनाव में एनडीए की मुश्किलें बढ़ती हुई नजर आ रही हैं।


बता दें कि शिवसेना से बगावत कर शिंदे गुट ने बीजेपी के साथ मिलकर बीते 30 जून को महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली थी। फिलहाल एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) के पास 50 विधायकों का समर्थन है। जिसमें निर्दलीय और शिवसेना (Shivsena) के बागी विधायक शामिल हैं। फिलहाल देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) को उपमुख्यमंत्री पद से संतोष करना पड़ा है। जबकि वो पहले कई बार दोहरा चुके थे कि वह जल्द ही मुख्यमंत्री के रूप में वापस आएंगे।


पसंद नहीं आई नई सरकार!

सर्वे के मुताबिक राज्य की शिंदे फडणवीस सरकार लोगों को रास नहीं आई है। आपको बता दें कि साल 2019 में बीजेपी और शिवसेना ने एक साथ मिलकर लोकसभा का चुनाव लड़ा था। तब उन्हें महाराष्ट्र की 48 लोकसभा सीटों में से 42 सीटों पर जीत मिली थी। हालांकि मौजूदा समय बीजेपी और शिंदे गुट के लिए मुफीद नजर नहीं आ रहा है। यदि इस समय चुनाव होते हैं तो उन्हें 48 में से सिर्फ 18 सीटों पर जीत मिलने के आसार नजर आ रहे हैं। जबकि 30 सीटें हैं सीधे महाविकास अघाड़ी के खाते में जाती हुई नजर आ रही हैं।


शिवसेना के पास सिर्फ 6 सांसद बचे हैं

महाराष्ट्र में नई सरकार के गठन के बाद शिंदे गुट और बीजेपी के सांसदों की संख्या 36 तक पहुंच गई है। जबकि उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली शिवसेना में अब सिर्फ 6 सांसद बचे हुए हैं। लेकिन सर्वे की मानें तो मौजूदा समय में अगर चुनाव हुआ तो यह गणित पलट सकता है। साथ ही महाविकास अघाड़ी महाराष्ट्र में भारी जीत दर्ज कर सकती है। मौजूदा समय में चुनाव होने का यह नतीजा भी होगा कि बीजेपी की सीटों में सीधे 50 फ़ीसदी तक की गिरावट हो सकती है। जो बीजेपी के लिए एक बड़ा झटका साबित होगा।


फिलहाल उद्धव ठाकरे और एकनाथ शिंदे गुट के बीच में सुप्रीम कोर्ट और चुनाव आयोग में लड़ाई चल रही है। यदि सुप्रीम कोर्ट एकनाथ शिंदे गुट के विधायकों को अयोग्य नहीं ठहराता है तो उद्धव ठाकरे के हाथ से शिवसेना निकल सकती है। जिसका सीधा असर आने वाले लोकसभा चुनाव के नतीजों पर भी पड़ेगा। ऐसे में महाराष्ट्र की सियासत में नए समीकरण भी बन सकते हैं।


Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.